सबसे बड़ा वर्चुअल एजुकेशन फेयर , 8 सप्ताह तक होगा आयोजित

Font Size

विद्यार्थियों की मदद के लिए आईडीपी एजुकेशन का विशेष आयोजन
  – आस्ट्रेलिया, इंगलैंड, अमेरिका, कनाडा, न्यूज़ीलैंड और आयरलैंड के 150 से अधिक चोटी के संस्थान भाग लेंगे
 – 10 अगस्त 2020 से 8 सप्ताह का शिक्षा मेला 10 अक्तूबर 2020 तक चलेगा  

गुरुग्राम, 05 अगस्त, 2020: विदेश में पढ़ने से ज़िंदगी बदल जाती है। यह केवल विद्यार्थियों की नहीं उनके परिवार की बात है। लेकिन कोविड 19 की रुकावटों की वजह से विद्यार्थियों के लिए सही निर्णय लेना कठिन हो गया है। इस संबंध में विद्यार्थियों और और उनके माता-पिता की तमाम चुनौतियों को दूर करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा जगत के प्रमुख संगठन आईडीपी एजुकेशन सबसे बड़े वर्चुअल एजुकेशन फेयर का आयोजन करने वाला है। 8 सप्ताह का यह शिक्षा मेला 10 अगस्त 2020 से शुरू और 10 अक्तूबर 2020 को सम्पन्न होगा। भारतीय विद्यार्थियों से बात-विचार और प्लानिंग में उनकी मदद करने के लिए इस वर्चअुल एजुकेशन फेयर में आस्ट्रेलिया, इंगलैंड, अमेरिका, कनाडा, न्यूज़ीलैंड और आयरलैंड के 150 से अधिक चोटी के संस्थान भाग लेंगे।  

आईडीपी एजुुकेशन के इस अभूतपूर्व वर्चुअल एजुकेशन फेयर का मकसद विद्यार्थियों की चिंता दूर करना और उन्हें घर बैठे मनपसंद संस्थान से आमने-सामने वीडियो से बात-विचार करने का अवसर देना है।

पीयूष कुमार, क्षेत्रीय निदेशक (दक्षिण एशिया), आईडीपी एजुुकेशन ने बताया, ‘‘आईडीपी भारतीय विद्यार्थियों को आस्ट्रेलिया, इंगलैंड, अमेरिका, कनाडा, न्यूज़ीलैंड और आयरलैंड में उनके लिए सबसे उपयुक्त संस्थान और कोर्स चुनने की सटीक सलाह और सहायता देता है ताकि वे कैरियर के सपने पूरे करें। इन छह देशों के 700 से अधिक विश्व स्तरीय संस्थान आईडीपी के भागीदार हैं और आईडीपी विद्यार्थियों को उनके लिए सबसे सही कोर्स चुनने में सबसे अधिक सक्षम नाम है। आईडीपी यह समझता है कि विदेश में पढ़ना कितना महंगा पड़ता है इसलिए विद्यार्थियों के लिए पहली बार ही सटीक निर्णय लेना बहुत महत्वपूर्ण है। इसके मद्देनजर आईडीपी का मकसद विद्यार्थियों और उनके माता-पिता को संपूर्ण सूचना देने वाला प्लैटफाॅर्म देना है ताकि जरूरी जानकारियों का आदान-प्रदान आसान हो और विद्यार्थियों को इस उद्योग के विशेषज्ञों का सही मार्गदर्शन मिले।’’

‘‘हम समझते हैं विद्यार्थियों के लिए किसी एक संस्थान का चयन करना और आवेदन की प्रक्रिया पूरी करना कितना कठिन होता है। इसलिए हम उन्हें संस्थान की तलाश से लेकर, आवेदन जमा करने और फिर कैम्पस में सुरक्षिरत पहंुचने तक हर कदम उनकी मदद और मार्गदर्शन देना चाहते हैं,’’ श्री कुमार ने बताया।

इस वर्चुअल फेयर के माध्यम से विद्यार्थी अपनी पसंद के संस्थानों में सीधे आवेदन कर सकते हैं और आईडीपी के अनुभवी और सर्टिफाइड शिक्षा विशेषज्ञ से स्काॅलरशिप, वीज़ा, आदि सभी जानकारियाँ विस्तार से प्राप्त कर सकते हे। यह ‘1-आॅन-1’ वीडियो काॅल के माध्यम से मुमकिन होगा। इस तरह विद्यार्थी किसी संस्थान के प्रतिनिधि से आमने-सामने बात कर पाएंगे और उनके प्रश्नों के उत्तर भी मिल जाएंगे। आईडीपी का शिक्षा मेला विद्यार्थियों के विदेश में पढ़ने का सपना पूरा करने की दिशा में बड़ा कदम है।

आईडीपी इंडिया का परिचय
आईडीपी एजुकेशन अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा सेवाओं की विश्व प्रमुख कम्पनी है। यह 32 से अधिक देशों में सेवारत है और इसके 110 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय विद्यार्थी प्लेसमेंट केंद्रों का विशाल नेटवर्क है। आईडीपी एजुकेशन एसएक्स लिस्टेड कम्पनी है जिसका 50 प्रतिशत स्वामित्व 38 ऑस्ट्रेलियाई विश्वविद्यालयों के पास है। लगभग 50 वर्षों से आईडीपी विद्यिार्थियों को सभी सलाह सेवाएं देते हुए अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा में अहम भूमिका निभा रहा है और ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, न्यूजीलैंड, इंगलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका और हाल में आयरलैंड के उच्च गुणवत्ता संस्थानों में 400,000 से अधिक विद्यार्थियों को स्थान प्राप्त करने में मददगार रहा है।

वर्तमान में आईडीपी इन इंडिया के पूरे भारत में 34 स्थानों पर कार्यालय हैं। हम विद्यार्थियों और उनके परिवारों को विदेश में पढ़ने के बारे में सभी जानकारियों के साथ संपूर्ण मार्गदर्शन देते हैं। उन्हें उचित विश्वविद्यालय /कोर्स के चयन, आवेदन, वीजा प्राप्त करने की प्रक्रिया बताने के साथ सहायता और प्रस्थान से पूर्व की योजना बनाने में मदद करते हैं।

आईडीपी दुनिया की कुछ सबसे पसंदीदा शिक्षा वेबसाइटों का स्वामी है जैसे कि द कम्प्लीट युनिवर्सीटी गाइड, व्हाटुनी और हॉटकोर्सेज़ एब्रोड।

आईईएलटीएस

आईडीपी के लिए आईईएलटीएस (अंतर्राष्ट्रीय अंग्रेजी भाषा परीक्षा प्रणाली) का सह-स्वामी होने का गर्व है। आईईएलटीएस पर आईडीपीः आईईएलटीएस ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटिश काउंसिल और कैम्ब्रिज इंग्लिश लैंग्वेज असेसमेंट का स्वामित्व है। 1989 में शुरू आईईएलटीएस आज दुनिया की सबसे लोकप्रिय उच्च-साख वाली अंग्रेजी भाषा प्रवीणता परीक्षा है।

पूरी दुनिया के 10,000 से अधिक संगठन आईईएलटीएस को अंग्रेजी भाषा में प्रवीणता का प्रमाण मानते हंै। पिछले साल पूरी दुनिया में 30 लाख से अधिक उम्मीदवार इस परीक्षा में बैठे थे।

अधिक जानकारी के लिए कृपया देखें:www.idp.com/india.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: