अब वर व वधू का आठवां वचन, चीनी भगाओ, स्वदेशी अपनाओ: पं. अमरचंद

Font Size

विवाह के दौरान वर वधू के साथ दोनों परिवारों के सदस्यों को पं. अमरचंद ने दिलाया चीनी वस्तुओं के बहिष्कार और स्वदेशी वस्तुएं अपनाने का संकल्प

गुरुग्राम 30 जून : श्री माता शीतला देवी मंदिर श्राइन बोर्ड गुरुग्राम के पूर्व सदस्य व आचार्य पुरोहित संघ के अध्यक्ष पं. अमर चंद भारद्वाज ने एक अनोखी पहल करते हुए मंत्रोचार के साथ मांगलिक विधि से विवाह संपन्न कराते समय आठवें वचन के रुप में वर-वधू व उनके परिवार के सदस्यों को चीनी सामानों के बहिष्कार और स्वदेशी सामानों को अपनाने का संकल्प दिलाया।

मेवात के राठीवास ठेठर से आए वर पक्ष की उपस्थिति में वधू पक्ष के घर कादीपुर एनक्लेव में आयोजित इस शादी में शामिल वर नवीन शर्मा, वधू स्वीटी तिवारी, कन्या के पिता चंद्र प्रकाश तिवारी शांडिल्य सहित दोनों परिवारों के सदस्यों रिश्तेदारों और शुभचिंतकों ने देश के प्रति समर्पण की भावना दिखाते हुए हर्षित होकर अग्नि के समक्ष हाथ उठाकर यह वचन निभाने का संकल्प लिया।

वहीं दोनों परिवारों में इसके लिए पं.अमरचंद को हृदय से धन्यवाद भी दिया। अमरचंद भारद्वाज ने कहा कि दांपत्य जीवन के शुभारंभ से पूर्व विवाह के दौरान गठबंधन कर नव वर-वधू एक साथ सात फेरे लेते हैं और अपने जीवन में पति व पत्नी के रुप में एक दूसरे के प्रति सात वचनों को निभाने का संकल्प लेते हैं।

आज देश की रक्षा और आर्थिक सुरक्षा के लिए नवविवाहित जोड़ों को अब इसी शुभ अवसर पर चीनी सामानों के बहिष्कार और स्वदेशी सामानों को अपनाने का संकल्प आठवां वचन के रुप में लेना होगा। ऐसा होने से जहां चीन के अनैतिक कारनामों पर रोक लग सकेगी वहीं भारत को आर्थिक समृद्धि प्राप्त होगी।

पंडित अमरचंद ने कहा कि आज पूरे देश में चीन के प्रति घोर नाराजगी है और देश के नागरिक चीन का पूरी तरह से बहिष्कार कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार भी इसके खिलाफ लगातार निर्णय ले रही है। सरकार ने चीन को आर्थिक झटका देते हुए 59 चीनी ऐप को प्रतिबंधित कर दिया है। हम सबका कर्तव्य बनता है कि इस सरकार के इस मिशन में सहयोग करें। उन्होंने आग्रह किया कि ऐसा आठवां वचन विवाह के दौरान हर दंपत्ती स्वीकार करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: