कोरोना वायरस संक्रमण रोकथाम के लिए गुरुग्राम जिला में डोर टू डोर सर्वे के लिए बनाई गई 203 टीमें

Font Size

गुरुग्राम। हरियाणा के मुख्य सचिव केशनी आनन्द अरोड़ा के निर्देश पर जिला उपयुक्त अमित खत्री ने कोरोना संक्रमण की दृष्टि से स्वास्थ्य सर्वे करने के लिए 203 टीमों का गठन किया है। जिला में ग्रामीण व शहरी दोनों क्षेत्रों में संक्रमण रोकने के लिए आवश्यक जानकारी जुटाने हेतु डोर टू डोर सर्वे किया जाएगा। यह डाटा प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों के साथ भी साझा किया जाएगा। इससे केंद्र व राज्य सरकार को लॉक डाउन समाप्त करने या फिर एक्सटेंड करने संबंधी निर्णय लेने में मदद मिलेगी।

  • उपायुक्त श्री अमित खत्री के अनुसार गुरुग्राम जिला में 203 ग्राम पंचायतें हैं, प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर बनाई गई टीमें
  • सर्वे टीम में शामिल होंगे सरपंच, पंच, ग्राम सचिव, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता तथा आशा वर्कर
  • इन ग्राम पंचायत स्तर पर सर्वे करने वाली टीमों का मार्गदर्शन करेंगी 20 सेक्टर कमेटी, जिनमें पंचायती राज विभाग के कनिष्ठ अभियंता तथा पंचायत समिति सदस्य शामिल होंगे।
  • सेक्टर कमेटियों तक जिला प्रशासन द्वारा भेजी गई सूचनाएं पहुंचाने के लिए बनाई गई है 4 जोनल कमेटी
  • जोनल कमेटी ब्लॉक स्तर पर काम करेगी जिसमें जिला परिषद सदस्य, पंचायत समितियों के चेयरमैन तथा संबंधित खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी शामिल होंगे।
  • आज लोक निर्माण विश्राम गृह के सभागार में सर्वे को लेकर आयोजित बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुलबीर सिंह ढाका और चेयरमैन कल्याण सिंह चौहान ने जिला परिषद पार्षदों का किया मार्गदर्शन, सभी पार्षदों को जिला प्रशासन की कार्य योजना से अवगत करवाया।
  • जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी नरेंद्र सारवान ने जोनल, ब्लॉक तथा ग्राम पंचायत स्तर पर गठित की गई इकाइयों के बारे में दी जानकारी।
  • उपायुक्त अमित खत्री ने कहा, सर्वे लोगों की मदद करने के उद्देश्य से किया जा रहा है ताकि जरूरतमंदों की पहचान करके उसी अनुरूप उन तक मदद पहुंचाई जा सके।
  • श्री खत्री ने कहा की सर्वे में मुख्य रुप से स्वास्थ्य के संबंधी जानकारी जुटाई जाएंगी
  • उन्होंने कहा कि जरूरी नहीं कि किसी व्यक्ति को कोरोना बीमारी के लक्षण हो, किसी बुजुर्ग अथवा अन्य व्यक्ति को सामान्य फ्लू से भी बुखार या खांसी- जुकाम आदि हो सकता है, उसके बारे में भी सर्वे टीम को बताएंगे तो दवा देना या टेस्ट अथवा ईलाज के लिये मदद की जा सकती है।
  • उन्होंने जिला वासियों से भी अपील की है कि आपके घर आने वाली सर्वे टीम को सही सही जानकारी दें, इसमें घबराने की जरूरत नहीं है।
  • श्री खत्री ने कहा कि सर्वे के माध्यम से जानकारी जुटाकर जिला प्रशासन उसी अनुसार उस क्षेत्र में मदद की टीमें भेजेगा।
  • उन्होंने यह भी कहा कि गांव में यदि कोई व्यक्ति विदेश से या किसी अन्य प्रदेश से आया हो तो निसंकोच होकर बताएं, यह उस व्यक्ति तथा उसके परिवार और मिलने वालों के फायदे में ही होगा।

– उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में सर्वे का कार्य अपेक्षाकृत आसान रहेगा क्योंकि गांव में सब एक दूसरे परिवार के बारे में जानते हैं, यह भी जानते हैं कि कौन बीमार है अथवा कौन बाहर से गांव में आया है।

–ग्रामीण क्षेत्र में शुरू होगा सैनिटाइजेशन छिड़काव का दूसरा राउंड – उपायुक्त

गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने आज बताया कि जिला के ग्रामीण क्षेत्र में सैनिटाइजेशन का दूसरा राउंड शुरू होने जा रहा है। उन्होंने बताया कि गांवों को किसी भी प्रकार के संक्रमण से मुक्त करने के लिए वहां पर दवा का छिड़काव करने का एक राउंड पहले ही पूरा किया जा चुका है। अब सरकार की हिदायत अनुसार दूसरा राउंड शुरू होने जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिन गांवों की जनसंख्या दो लाख से कम है, उन्हें राज्य सरकार की तरफ से दवा के छिड़काव तथा स्वच्छता के लिए ₹20 हज़ार प्रति गांव दिए गए हैं। गुरुग्राम जिला में इसके तहत 98 गांव आते हैं, जिन्हें यह सहायता राशि दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: