अयोध्या पर फैसले से पहले देश भर में हाई अलर्ट, कई शहरों में धारा 144 लागू

Font Size

नई दिल्ली। देश के लिए आज बेहद बड़ा दिन है. अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने वाला है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की संविधान बेंच सुबह 10:30 बजे अयोध्या पर फैसला सुनाएगी। इसके मद्देनजर गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को सतर्क रहने की हिदायत दी है। पीएम मोदी ने दशवासियो से फैसले का सम्मान करने व शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

इसको लेकर पूरे देश कड़ा पहरा लगा दिया है। पूरे उत्तर प्रदेश में धारा 144 लागू है। अयोध्या को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। सिर्फ यूपी ही नहीं देश के कई राज्‍य हाई अलर्ट पर हैं और वहां भी धारा 144 लागू किया गया है। यूपी के अलावा दिल्ली, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, राजस्थान की सरकारों ने शनिवार को सभी स्कूल-कॉलेज बंद रखने के निर्देश जारी किए हैं।

भोपाल में कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने सोशल मीडिया पर भी शिकंजा कसते हुए आपत्तिजनक, भड़काऊ, किसी संप्रदाय विशेष को टार्गेट करते संदेश, तस्वीर, वीडियो पोस्ट करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इन सारे उपायों के अलावा प्रशासन ने एक खास तैयारी की है, जिसमें अहम भूमिका होगा आशा कार्यकर्ता, एएनएम, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और पटवारियों की जो सुनिश्चित करेंगे कि राज्य में सांप्रदायिक सौहार्द बना रहे।

पूरे भोपाल में धारा 144 लागू है। इसके अलावा बेंगलुरु पुलिस ने एहतियात के तौर पर कदम उठाते हुए शनिवार को सुबह 7 बजे से रात के 12 बजे तक बेंगलुरु में धारा 144 लागू कर दी गई है। सोशल मीडिया पर भी निगरानी रखी जा रही है। शराब की दुकानें भी एक दिन के लिए बंद रहेंगी। बेंगलुरु पुलिस कमिश्नर के 8000 जवान तैनात किए गए हैं।

वहीं जम्मू-कश्मीर में धारा 144 लागू कर दिया गया है। स्कूल और कॉलेज बंद करने के निर्देश जारी किए गए हैं। बिहार की राजधानी पटना में भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। रेलवे पुलिस ने भी सभी कर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं। उन्हें ट्रेनों की सुरक्षा में तैनात रहने के निर्देश दिए गए हैं। प्लेटफॉर्म्स, रेलवे स्टेशनों, यार्ड, पार्किंग स्थल, पुलों और सुरंगों के साथ-साथ उत्पादन इकाइयों व कार्यशालाओं में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

अयोध्या फैसले को लेकर बीजेपी ने आज बैठक बुलाई है। आज दिल्ली में बीजेपी नेताओं की बैठक होगी। इस बैठक में बीजेपी के कई बड़े नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है। इधर फैसले को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी से शांति बनाए रखने की अपील की है। वहीं, रामलला विराजमान के मुख्य पुजारी महंत सत्येंद्र दास ने भी सभी से शांति बनाए रखने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: