रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रूसी रक्षा उद्योग से भारत के साथ मिलकर रक्षा उत्पादन पर बल दिया

Font Size

मास्को। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रूसी रक्षा उद्योग से भारत के साथ मिलकर रक्षा उत्पादन करने के लिए आग्रह किया। इस कदम से तीसरे देशों को भारत द्वारा किये जाने वाले निर्यात में भारी बढ़ोतरी होगी। रक्षा मंत्री मॉस्को में रूस के उद्योग और व्यापार मंत्री डेनिस मानतूरोव के साथ भारत-रूस रक्षा उद्योग सहयोग सम्मेलन का उद्घाटन करने के बाद रूसी रक्षा उद्योग के मुख्यकार्यकारी अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत सरकार मेक इन इंडिया के तहत भारतीय उद्योग के साथ साझेदारी करने के लिए मूल रक्षा उपकरण निर्माताओं को प्रोत्साहित कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में व्यापार सुगमता में सुधार आया है और रक्षा उत्पादन क्षेत्र को विदेशी सहयोगियों के लिए खोल दिया गया है।

श्री सिंह ने रूसी या सोवियत मूल के हथियारों तथा रक्षा उपकरण संबंधी अन्य सामग्री के पुर्जों और घटकों के संयुक्त निर्माण के लिए अंतर-सरकारी समझौते का उल्लेख किया। याद रहे कि व्लादीवोस्तोक में आयोजित 20वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन के दौरान दोनों देशों के बीच इस समझौते पर 4 सितम्बर, 2019 को हस्ताक्षर किए गए थे।

राजनाथ सिंह 6 नवम्बर, 2019 को रूस के रक्षा मंत्री जनरल सर्गेई सोईगू के साथ मुलाकात करेंगे। उन्होंने रूसी रक्षा निर्माताओं को 5 से 8 फरवरी, 2020 को लखनऊ में आयोजित होने वाले डेफएक्सपो-2020 में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: