विधानसभा में सदन के सदस्यों को पेपर फ्री चर्चा का सुझाव देकर छा गए भाजपा विधायक नरेंद्र गुप्ता

Font Size

फरीदाबाद। फरीदाबाद 89 विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीत कर पहली बार हरियाणा विधानसभा पहुंचे भाजपा विधायक नरेन्द्र गुप्ता आज प्रदेश की 14वीं विधानसभा के प्रथम सत्र के दूसरे दिन ही छा गए तथा उन्होंने राज्यपाल के अभिभाषण पर हो रही चर्चा में हिस्सा लेते हुए सदन के सदस्यों को पेपर फ्री चर्चा का संदेश दिया। उनके इस संदेश को सदन में उपस्थित प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अपने सम्बोधन मे तीन बार सराहा तथा अन्य सदस्यों से भी इसका अनुशारण करने की बात कही। उल्लेखनीय है कि फरीदाबाद विधानसभा सीट से चुनाव जीत कर पहली बार विधानसभा पहुंचे नरेन्द्र गुप्ता ने आज सदन में चली राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान अपने विचार रखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुडा द्वारा उठाए गए प्रश्र का जिक्र करते हुए कहा कि राज्यपाल महोदय के अभिभाषण में ईज आॅफ लिविंग इंडेक्स में हरियाणा को देश का नंबर एक अग्रणी राज्य बनाने संबंधी जो सरकार का संकल्प रखा गया है, उसके बाद मैं समझता हूं कि हरियाणा की नई सरकार ने एक लाइन में अपना विजन अगले पांच साल के लिए तय कर दिया है। माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में यह सरकार चाहती है कि पूरे राज्य के लोगों का जीवन खुशहाल हो, लोगों को सस्ती शिक्षा, स्वास्थ्य और सुलभ न्याय की सुविधाएं मिलें। युवाओं के पास रोजगार हो और हरियाणा देश में अग्रणी राज्य कहलाए। नरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि भाजपा सरकार ने पिछले पांच साल में वर्षोंं से बिगड़ी प्रशासनिक व्यवस्था में सुधार लाने के लिए अनेक पारदर्शी कदम उठाए मगर इस बार राज्यपाल महोदय के अभिभाषण में यह साफ कर दिया है कि सरकार प्रशासनिक सुधार को अपने मुख्य एजेंडे में रखेगी। जनता ने इस सरकार को जबावदेही और पारदर्शी शासन देने के लिए चुना है। राज्यपाल महोदय के अभिभाषण में यह स्पष्ट किया है कि हमारी सरकार जबाव देह और उत्तरदायी बनाने के शिकायत निवारण प्रणाली को और मजबूत करेगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा एक और हरियाणवी एक के तहत शांति, सद्भाव और आपसी भाईचारे की कड़ियों को और मजबूत करने की दिशा में काम करेगी। नरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि राज्यपाल के अभिभाषण के प्रत्येक वाक्य में सरकार का संकल्प तय हुआ है- समग्र विकास की परिकल्पना के साथ यह सरकार काम करेगी। नरेन्द्र गुप्ता ने अपने सम्बोधन का हर पांईट को ई-टैक्नॉलॉॅजी का प्रयोग करते हुए अपने मोबाईल में टाईप करके ले गए थे। जिसका कुछ कांग्रेसी विधायकों ने विरोध किया कि वह मोबाईल में भाषण लिख कर लाए हैं, लेकिन नरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि पहली बार विधायक बने हैं पर वह मोबाईल में भाषण लिख कर नहीं पांईट नोट कर के लाए हैं। लेकिन बाद में प्रदेश के उपमुख्यंत्री ने अपने भाषण के दौरान नरेन्द्र गुप्ता के इस कदम की सराहना करते हुए हर सदस्य को इसका अनुशरण करने की बात एक बार नहीं तीन-तीन बार कही। असल में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हम सभी अपने हाथ में पेपर लेकर सदन मे अपनी बात रखते हैं, लेकिन गुप्ता जी ने पेपर का प्रयोग न कर मोबाईल का प्रयोग किया है जो कि एक अच्छा कदम है और हम सभी को इसका अनुशरण करना चाहिए। असल में नरेन्द्र गुप्ता का यह पेपर फ्री चर्चा का फामूर्ला यदि सदन में लागू हो गया तो देश में यह अपनी तरह का एक नया प्रयोग होगा, क्योकि सदनों में हर सदस्य पेपर पर पाईंट लिख कर लाकर उसको हाथ में लेकर बोलते हैं और नरेन्द्र गुप्ता ने अपने आज के भाषण से पेपर बचाने का नया संदेश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: