सीएम ने घग्गर नदी का बरसाती पानी सिंचाई के लिए उपयोग करने की मांग पर मोहर लगाईं

Font Size

चंडीगढ़ :  हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सिरसा जिले के कालांवली क्षेत्र के लोगों की मांग पर घग्गर नदी का बरसाती पानी सिंचाई के लिए मुहैया करवाने के अनुरोध को स्वीकार किया है। इससे 7 गांवों को बेहतर सिंचाई सुविधा मिलने के साथ-साथ भूमिगत जलस्तर में भी सुधार होगा।

मुख्यमंत्री आवास पर आज जनता दरबार का आयोजन किया गया, जिसमें प्रदेश भर से आए लोगों और 12 प्रतिनिधिमंडलों ने अपनी मांगें रखी। मुख्यमंत्री ने बड़ी सहजता के साथ लोगों की समस्याएं सुनी और उनका मौके पर ही निदान किया। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से जनता के हित में कार्य किए जा रहे हैं और आगे भी किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को हरियाणा ऑयल मिल्स एसोसिएशन के अनुरोध पर एल-1 और एल-2 फॉर्म को 30 दिनों के अंदर-अंदर ऑनलाइन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने के लिए अधिकांश सेवाओं एवं योजनाओं को ऑनलाइन किया है। राज्य की सभी मंडिया को ई-नैम पोर्टल से जोड़ी गई हैं अब कोई भी किसान किसी भी मंडी में अपना अनाज सही दामों पर बेच सकता है। इसी प्रकार, अब एल-1 और एल-2 फॉर्म के ऑनलाइन करने से पारदर्शिता आएगी।

जनता दरबार में प्रदेशभर से आए गडरिया समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री से अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग रखी। इसी प्रकार, वीएलडीए प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री से वीएलडीडी कोर्स में योग्यता पहले की तर्ज पर 10+2 विज्ञान करने की मांग रखी।           नेशनल इंटिग्रेटिड मेडिकल एसोसिएशन (निमा) ने डॉक्टरों के कल्याणार्थ किए गए कार्यों और कंप्यूटर टीचर एसोसिएशन ने मानदेय बढ़ाने पर मुख्यमंत्री का आभार जताया। इसके अलावा, जांगिड़, धीमान व पाल समाज के लोगों ने कुरुक्षेत्र स्थित धर्मशालाओं के लिए धनराशि मुहैया करवाने पर मुख्यमंत्री और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री श्री कृष्ण बेदी का अभिनन्दन किया।

इस मौके पर सहकारिता मंत्री  मनीष कुमार ग्रोवर, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजेश खुल्लर और उप प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती नवराज संधू, परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टी.सी. गुप्ता, स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा, सिंचाई विभाग के प्रधान सचिव श्री अनुराग रस्तोगी, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के महानिदेशक श्री अजीत बालाजी जोशी सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: