सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि मामले में मध्यस्थता कमेटी से 18 जुलाई तक रिपोर्ट मांगी

Font Size

सुप्रीम कोर्ट में 25 जुलाई से प्रतिदिन हो सकती है सुनवाई

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले को लेकर मध्यस्थता कमेटी से आगामी 18 जुलाई तक अब तक की बातचीत की प्रगति रिपोर्ट मांगी है।  मसले की अगली सुनवाई 25 जुलाई को होगी। अगर मामले में अभी तक कोई प्रगति नहीं हुई है  तो कोर्ट प्रति दिन 25 जुलाई से प्रतिदिन सुनवाई करेगी . इस मामले में हिन्दू पक्षकार की ओर से सुनवाई के लिए याचिका दायर की गयी थी जिस पर अदालत ने यह निर्देश दिया .

बताया जाता है कि कोर्ट ने कहा कि अगर मध्यस्थता कारगर नहीं साबित होती है, तो 25 जुलाई के बाद ओपन कोर्ट में रोजाना इसकी सुनवाई होगी। इससे स्पस्ट है कि मध्यस्थता जारी रहेगी या नहीं, इसका निर्णय 18 जुलाई को हो जाएगा और अदालत अगली सुनवाई की व्यवस्था भी दे सकती है ।

आज हुई सुनवाई में हिंदू पक्ष की तरफ से वकील रंजीत कुमार ने कोर्ट को  बताया कि 1950 से ये मामला चल रहा है लेकिन अभी तक सुलझ नहीं पाया है। उनका कहना था कि अब तक हुई बैठक में मध्यस्थता कारगर नहीं रही है.  इसलिए अदालत को सुनवाई करनी चाहिए। पक्षकार ने कहा कि जब ये मामला शुरू हुआ था तब वह जवान थे, लेकिन अब उम्र 80 के पार हो गई है। लेकिन मामले का हल नहीं निकल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: