एचपीएससी परीक्षा के लिए गुरुग्राम में 38 परीक्षा केंद्र , 11 हजार से अधिक परीक्षार्थी

Font Size
गुरुग्राम, 28 मार्च। हरियाणा लोक सेवा आयोग की 31 मार्च को होने वाली हरियाणा सिविल सर्विस की प्राथमिक परीक्षा के केन्द्र गुरूग्राम में बनाए गए है। इस परीक्षा को लेकर जिला में 38 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं जिन पर इस बार 11760 उम्मीदवार परीक्षा देंगे। इस परीक्षा को शान्तिपूर्ण ढंग से संपन्न करवाने के लिए इन परीक्षा केन्द्रों पर 14 ड्यूटी मैजिस्ट्रैट लगाए गए हैं।
इस परीक्षा के आयोजन को लेकर आज नगर निगम के संयुक्त आयुक्त-3 एवं डीआरओ हरिओम अत्री ने विद्यालयों के प्राचार्यो, ड्यूटी मैजिस्ट्रेट व सैंटर सुपरवाइजर सहित संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की। इस परीक्षा के लिए नगर निगम के संयुक्त आयुक्त-3 एवं डीआरओ हरिओम अत्री को नोडल अधिकारी तथा जिला शिक्षा अधिकारी दिनेश शास्त्री को कोर्डिनेटर नियुक्त किया गया है। परीक्षा के ओवर आॅल इंचार्ज गुरूग्राम के उपायुक्त अमित खत्री होंगे।
बैठक में श्री अत्री ने विद्यालयों के प्राचार्यो, ड्यूटी मैजिस्ट्रेट, सुपरवाइजरों को परीक्षा के आयोजन के संबंध में महत्वपूर्ण हिदायतें दी और बताया कि परीक्षा दो सत्रों में आयोजित होगी। प्रथम सत्र प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक का होगा जबकि दूसरा सत्र दोपहर बाद 3 बजे 5 बजे तक का होगा। उन्होने अधिकारियों से कहा कि वे परीक्षा केंद्र पर सख्ताई रखे और मुख्य द्वार से लेकर परीक्षा कक्ष तक साइन बोर्ड की व्यवस्था करें ताकि परीक्षार्थी को स्थान ढूंढने में परेशानी ना हो। परीक्षा केंद्र में कोई भी व्यक्ति, परीक्षार्थी या ड्यूटी पर तैनात स्टाफ मोबाईल फोन या इलैक्ट्रानिक गैजेट लेकर नहीं जा सकता।
परीक्षार्थी परीक्षा देने के लिए अपने साथ लाए केवल बाॅल पैन, मूल पहचान पत्र व एडमिट कार्ड।
श्री अत्री ने कहा कि परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र में मोबाइल, थैले या अन्य सामग्री अंदर ले जाने की परमिशन नही होगी। इसलिए परीक्षार्थी घड़ी, मोबाइल, कंगन, चैन , ईयररिंग आदि जैसी किसी प्रकार की वस्तु अपने साथ ना लाएं। परीक्षार्थियों के मोबाईल, थैले या अन्य सामग्री परीक्षा केंद्र के बाहर ही रखवाई जाएगी। उन्होने कहा कि परीक्षा केंद्र में कुछ भी ऐसा नहीं लगा होना चाहिए जो परीक्षा में सहायक हो सकता हो। परीक्षार्थी को परीक्षा केन्द्र में पैन, व्यक्तिगत पहचान पत्र जैसे- आधार कार्ड , वोटर कार्ड, पासपोर्ट आदि मूल दस्तावेज लाएं। इसके साथ ही वे परीक्षा पत्र(एडमिट कार्ड ) परीक्षा केन्द्र पर ला सकते हैं। उन्होंने कहा कि परीक्षार्थी व्यक्तिगत पहचान पत्र के लिए क्या-क्या दस्तावेज प्रस्तुत कर सकता है, इसकी जानकारी उसके एडमिट कार्ड पर दी गई है। उन्होंने बताया कि सभी परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी और जैमन लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि परीक्षार्थी को परीक्षा अवधि के दौरान परीक्षा केन्द्र से बाहर जाने की अनुमति नही होगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रातः कालीन सत्र के बाद परीक्षार्थी परीक्षा केन्द्र के बाहर जा सकते हैं, लेकिन दोपहर बाद वाले सत्र में उसके प्रवेश से पूर्व पुनः तलाशी ली जाएगी।
श्री अत्री ने कहा कि परीक्षा केंद्र में प्रवेश के समय पुलिसकर्मियों द्वारा उनकी चैकिंग की जाएगी। किसी भी उम्मीदवार को प्रातः 9ः50 बजे तथा दोपहर को 2ः50 बजे के बाद परीक्षा केन्द्र में प्रवेश की अनुमति नही दी जाएगी।
परीक्षा केन्द्रों पर सिक्योरिटी रहेगी टाइट
बैठक में बताया कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर 1 एएसआई, 1 हैडकांस्टेबल, 5 कांस्टेबल तथा 3 महिला कांस्टेबल लगाई जाएगी। इस प्रकार परीक्षा केन्द्रों पर जिला में लगभग 450 पुलिस के जवानों की तैनाती रहेगी। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा को शान्तिपूर्ण ढंग से संपन्न करवाने के लिए एक कंट्रोल रूम भी बनाया गया है जिसका दूरभाष नंबर 0124-2320305 है। साथ ही उन्होंने कहा कि परीक्षा कक्ष में लाईटिंग का समुचित इंतजाम हो ताकि उम्मीदवारों को परेशानी ना हो। उन्होंने कहा कि परीक्षा के लिए सभी विद्यालय इंतजामात कर लें और ध्यान रखें कि उम्मीदवारों को परीक्षा देने में किसी प्रकार की कठिनाई ना हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: