राष्ट्रपति द्रौपदी मूर्मू ने किया गीता महोत्सव के पार्टनर स्टेट मध्यप्रदेश के पैवेलियन का दौरा

Font Size

चंडीगढ़, 29 नवम्बर : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज कुरुक्षेत्र में चल रहे अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में पहुंची। उन्होंने गीता महोत्सव के पार्टनर स्टेट मध्यप्रदेश के पैवेलियन में जाकर भगवान श्रीकृष्ण की उज्जैन के सान्दीपनी ऋषि के आश्रम में ग्रहण की गई शिक्षा-दीक्षा पर आधारित सर्वांग-चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। इस अवसर पर हरियाणा के राज्यपाल  बंडारू दत्तात्रेय व  मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी साथ रहें।

ब्रह्मसरोवर  के किनारे लगाए गए मध्य प्रदेश पैवेलियन में भगवान श्री कृष्ण की 14 विद्याओं व 64 कलाओं को स्लाइड्स के माध्यम से प्रदर्शित किया गया है। हाल ही में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल कॉरिडोर का उदघाटन किया था। मध्य प्रदेश पैवेलियन में उज्जैन महाकाल कॉरिडोर के मुख्य प्रवेश द्वार का मॉडल को सांस्कृतिक मंच पर प्रदर्शित किया गया है।

मध्य प्रदेश में कला एव संस्कृति विभाग के निदेशक अदिति कुमार त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि ऋषि सांदीपनि और भगवान श्री कृष्ण की बहु प्रचलित लोक कथाओं को सर्वांग- चित्र प्रदर्शनी के माध्यम से प्रदर्शित किया गया है। ऋषि सांदीपनि के आश्रम में भगवान श्री कृष्ण ने अपने भाई बलराम व मित्र सुदामा के साथ 64 दिनों में 14 विद्याओं व 64 कलाओं को सीखा था। उन्होंने कुरुक्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर के गीता महोत्सव के आयोजन को सराहनीय बताया।

राष्ट्रपति के पैवेलियन में पहुंचने पर सांस्कृतिक दल ने मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध भील जनजातीय के भगौरिया नृत्य का प्रदर्शन भी किया।

%d bloggers like this: