दिल्ली एनसीआर साहित बिहार में छठ महापर्व पर डूबते हुए सूर्य को लाखों लोगों ने दिया अर्घ्य   

Font Size

पटना /गुरुग्राम :  28 अक्टूबर से शुरू हुए छठ महापर्व का आज बेहद खास तीसरा दिन है। व्रतियों ने डूबते हुए सूर्य को बांस की टोकरी में फल, ठेकुआ, चावल के लड्डू आदि से भगवान सूर्य को अर्घ्य दिया। पटना के गंगा घाटों पर श्रद्धालु सिर पर धम्मा और दउरा लेकर छठ व्रतियों के साथ गीत गाते हुए पहुंचे। राजधानी पटना में शहर के 85 गंगा घाट और 61 तालाबों पर 15 लाख श्रद्धालुओं के पहुंचे। वहीं, जिले के 427 घाट और 179 तालाबों पर 25 से 30 लाख श्रद्धालु घाट पर पहुंचे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने बेटे के साथ सीएम आवास पर तो उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने छठ के अवसर पर दीघा घाट पहुंचकर डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया। सीएम नीतीश ने अर्घ्य देते हुए बिहारवासियों की सुख, शांति और समृद्धि की कामना की। सीएम की भाभी और भतीजी ने इस साल छठ व्रत किया हैं।

एनसीआर के प्रमुख शहर गुरुग्राम में भी छठ पर्व का आयोजन बड़े पैमाने पर किया गया है. शहर के लगभग सभी आवासीय सेक्टर हो या कालिनियाँ, छठ व्रतियों को छठ घाट की ओर जाते हुए देखा गया । न्यू पालम विहार गुड़गांव स्थित प्रसिद्ध सूर्य देव मंदिर छठ घाट पर हजारों श्रद्धालुओं एवं छठ व्रती पहुंचे । बड़े पैमाने पर गुरुग्राम शहर में रहने वाले श्रद्धालु डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य देने पहुंछे । चारों तरफ हर्ष और उल्लास का वातावरण व्याप्त रह । सूर्यदेव मंदिर प्रांगण व छठ घाट को बेहद आकर्षक तरीके से सजाया गया है। छठ पूजा समिति सूर्यदेव मंदिर न्यू पालम विहार के अध्यक्ष अर्जुन दास के नेतृत्व में यहां लगातार 14 वर्षों से छठ पूजा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। समिति के सभी सदस्य इस महोत्सव को सफल बनाने में पिछले 1 माह से जुटे हुए हैं।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: