नाबालिग बालिका के अपहरण के मामले में कार्यवाही नहीं होने से ग्रामीण हुए नाराज

Font Size

ग्रामीणों ने जुरहरा थाने के सामने किया धरना व प्रदर्शन

जुरहरा थानाधिकारी के पांच दिन में कार्यवाही के आश्वासन के बाद धरना हुआ समाप्त

जुरहरा, रेखचन्द्र भारद्वाज: जुरहरा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी नाबालिग बालिका के अपहरण के मामले में पुलिस द्वारा उसे दस्तयाब नहीं कर पाने व अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाने से आक्रोशित लोगों ने पुलिस की कार्यशैली के खिलाफ शुक्रवार को जुरहरा थाने के सामने धरना देते हुए प्रदर्शन किया व जल्द से जल्द बालिका को दस्तयाब कर आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की गई।

धरना व प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही जुरहरा थानाधिकारी संतोष शर्मा ने धरना दे रहे लोगों से वार्ता कर 5 दिन में बालिका को दस्तयाब करने व आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया जिसके बाद थाना अधिकारी के आश्वासन पर लोगों के द्वारा धरना समाप्त कर दिया।


नौनेरा के पूर्व सरपंच धनराज चौधरी ने बताया कि 18 जुलाई की रात्रि को करीब दो बजे आरोपी हथियारों के बल पर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी नाबालिग बालिका का अपहरण कर ले गए थे जिसका मामला जुरहरा थाने मे दर्ज करा दिया गया था लेकिन अभी तक पुलिस ने अपह्रत नाबालिग बालिका को दस्तयाब नही किया है और न ही आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नहीं किए जाने के चलते शुक्रवार को ग्रामीणों के द्वारा उक्त मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करने की मांग करते हुए जुरहरा थाने के सामने धरना व प्रदर्शन किया गया जिसमें धरना स्थल पर आकर जुरहरा थाना अधिकारी संतोष कुमार शर्मा ने 5 दिन के अंदर मामले में कार्यवाही किए जाने का आश्वासन दिया जिसके चलते धरना समाप्त कर दिया गया।

जुरहरा थाना अधिकारी संतोष शर्मा ने बताया कि बालिका को दस्तयाब करने व आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार तलाश की जा रही है। जल्द से जल्द अपह्रत बालिका को दस्तयाब कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि नाबालिग बालिका द्वारा आरोपी के साथ विवाह करने की सूचना भी प्राप्त हो रही है तथा बालिका ने अपने परिजनों से खतरा बताते हुए पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट चंडीगढ से सुरक्षा प्रदान करने की मांग भी किए जाने की जानकारी मिली है।

Leave a Reply

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: