प्रधानमंत्री 17 और 18 जून को गुजरात की यात्रा करेंगे

Font Size

प्रधानमंत्री वडोदरा के गुजरात गौरव अभियान में हिस्सा लेंगे

प्रधानमंत्री 21,000 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1.4 लाख से अधिक घरों का उद्घाटन और शिलान्यास किया जाएगा

16,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं के माध्यम से क्षेत्र में रेलवे कनेक्टिविटी को बड़ा बढ़ावा मिलेगा

आम आदमी के जीवन को सुगम बनाने के लिए कई विकास कार्यों को समर्पित और इनका शिलान्यास किया जाएगा

राज्य में मातृ और शिशु स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए भी योजनाएं शुरू की जाएंगी

प्रधानमंत्री पावागढ़ पहाड़ी पर स्थित श्री कालिका माता के पुनर्निर्मित मंदिर का उद्घाटन करेंगे

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 17 और 18 जून को गुजरात का दौरा करेंगे। 18 जून को सुबह लगभग 9:15 बजे प्रधानमंत्री पावागढ़ पहाड़ी पर स्थित श्री कालिका माता के पुनर्निमित मंदिर की यात्रा करेंगे और इसका उद्घाटन करेंगे। इसके बाद उनकी विरासत वन की यात्रा लगभग 11:30 बजे होगी। वहीं, दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे वे वडोदरा के गुजरात गौरव अभियान में हिस्सा लेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री 21,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।

गुजरात गौरव अभियान

वडोदरा के गुजरात गौरव अभियान में सरकार की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थी हिस्सा लेंगे। प्रधानमंत्री 16,000 करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। इनमें समर्पित फ्रेट कॉरिडोर के 357 किलोमीटर लंबे न्यू पालनपुर-मदार खंड का राष्ट्र को समर्पण, 166 किलोमीटर लंबे अहमदाबाद-बोटाद खंड का आमान परिवर्तन, 81 किलोमीटर लंबे पालनपुर-मीठा खंड का विद्युतीकरण और अन्य शामिल है। प्रधानमंत्री सूरत, उधना, सोमनाथ और साबरमती स्टेशनों के पुनर्विकास के साथ-साथ रेलवे क्षेत्र में अन्य परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे। इन परियोजनाओं से लॉजिस्टिक लागत को कम करने और क्षेत्र में उद्योग व कृषि को बढ़ावा देने में सहायता मिलेगी। साथ ही, इन परियोजनाओं से क्षेत्र में कनेक्टिविटी में भी सुधार होगा और यात्री सुविधाएं उन्नत होंगी।

श्री नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कुल 1.38 लाख घर इसके लाभार्थियों को समर्पित करेंगे। इनमें शहरी क्षेत्रों में लगभग 1,800 करोड़ रुपये और ग्रामीण क्षेत्रों में 1,530 करोड़ रुपये से अधिक के आवास शामिल हैं। साथ ही, 310 करोड़ रुपये से अधिक के लगभग 3000 आवासों का खत मुहूर्त भी किया जाएगा।

इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री खेड़ा, आणंद, वडोदरा, छोटा उदयपुर और पंचमहल में 680 करोड़ रुपये से अधिक के विभिन्न विकास कार्यों को समर्पित करेंगे और आधारशिला रखेंगे। इनका उद्देश्य क्षेत्र में लोगों के जीवन को सुगम बनाना है।

इसके अलावा प्रधानमंत्री गुजरात के दभोई तालुका के कुंडेला गांव में गुजरात केंद्रीय विश्वविद्यालय का शिलान्यास भी करेंगे। यह वडोदरा शहर से लगभग 20 किलोमीटर दूर स्थित है। इस विश्वविद्यालय का निर्माण लगभग 425 करोड़ रुपये की लागत से किया जाएगा और यह 2500 से अधिक छात्रों की उच्च शिक्षा की जरूरतों को पूरा करेगा।

मातृ और शिशु स्वास्थ्य में सुधार पर ध्यान देने के लिए प्रधानमंत्री ‘मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना’ की शुरुआत करेंगे। इस पर 800 करोड़ रुपये खर्च होगा। इस योजना के तहत आंगनबाड़ी केन्द्रों से गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं को हर महीने 2 किलो चना, 1 किलो अरहर की दाल और 1 किलो खाद्य तेल निःशुल्क दिया जाएगा। इसके अलावा प्रधानमंत्री ‘पोषण सुधा योजना’ के लिए लगभग 120 करोड़ रुपये का वितरण भी करेंगे, जिसे अब राज्य के सभी जनजातीय लाभार्थियों तक पहुंचाया जा रहा है। आदिवासी जिलों की गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं को आयरन व कैल्शियम की गोलियां उपलब्ध कराने और पोषण पर शिक्षित करने के प्रयोग की सफलता के बाद यह कदम उठाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री की श्री कालिका माता मंदिर यात्रा

प्रधानमंत्री पावागढ़ पहाड़ी पर स्थित श्री कालिका माता के पुनर्निमित मंदिर का उद्घाटन करेंगे। यह क्षेत्र के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है और बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों को आकर्षित करता है। मंदिर का पुनर्निर्माण 2 चरणों में किया गया है। इसके पहले चरण का उद्घाटन प्रधानमंत्री ने अप्रैल, 2022 में किया था। वहीं, इस कार्यक्रम में दूसरे चरण के तहत पुनर्निर्मित जिस हिस्से का उद्घाटन किया जाना है, उसका शिलान्यास प्रधानमंत्री ने 2017 में किया था। इसमें मंदिर के आधार का विस्तार और तीन स्तरों पर ‘परिसर’, स्ट्रीट लाइट, सीसीटीवी प्रणाली जैसी सुविधाएं शामिल हैं।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: