भागलपुर से अक्षय तृतीया पर हवाई सेवा शुरू होने के आसार

Font Size

भागलपुर। भागलपुर को अक्षय तृतीया पर बड़ी सौगात मिलेगी। अगर स्थानीय प्रशासन और नागरिक विमानन मंत्रालय की ओर से भागलपुर हवाई अड्डे से हवाई जहाज उड़ाने की अनुमति मिल जाती है, तो राइप एयरलाइंस आगामी तीन मई को भागलपुर से यात्री विमान की सुविधा शुरू कर सकता है। यह कहना है राइप एयरलाइंस के सीएमडी विजेंद्र कुमार मिश्र का। राइप एयरलाइंस के सीएमडी के साथ असिस्टेंट मैनेजर सुधांशु शेखर, सीइओ अंकित कुमार ने शनिवार को भागलपुर हवाई अड्डा का जायजा लिया और उड़ान शुरू करने की संभावनाओं पर विचार किया।

 राइप एयरलाइंस की टीम ने भागलपुर के सांसद अजय कुमार मंडल के साथ भागलपुर हवाई अड्डा के रनवे का जायजा लिया। उनके साथ एडीएम राजेश झा राजा व मुख्यालय डीएसपी भी मौजूद थे। उन्होंने गाड़ी के सहारे रनवे की लंबाई की माप की और उसकी स्थिति को नजदीक से देखा। राइप एयरलाइन्स के सीएमडी विजेंद्र कुमार मिश्र ने दावा किया कि भागलपुर हवाई अड्डा का रनवे विमान के उड़ान भरने के लिए उपयुक्त है। रनवे 11 सौ मीटर लंबा है। विजिवलिटी की भी कोई समस्या नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर जिला प्रशासन और नागरिक विमानन मंत्रालय की ओर से यहां से उड़ान की अनुमति मिलती है, तो वे भागलपुर से हवाई सेवा शुरू करने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने स्पष्ट किया कि उनकी योजना तीन मई को अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर भागलपुर से हवाई उड़ान ट्रायल करने की है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने स्पष्ट किया कि हवाई अड्डा के आसपास बने घरों से भी विमान उड़ने में कोई परेशानी नहीं होगी।

विजेंद्र कुमार मिश्र ने कहा कि भागलपुर से नियमित हवाई जहाज के परिचालन के लिए हवाई अड्डा पर बुनियादी सुविधाओं का होना जरूरी है। यहां वेंटिंग रूम, फ्यूल सेंटर, रिटायरिंग रूम, टेक्निकल स्टाफ के लिए रूम आदि का निर्माण कराया जाना जरूरी है।

उन्होंने हवाई अड्डा पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम पर भी बल दिया। उनके अनुसार ट्रायल में 20 शीटर विमान उड़ाया जाएगा। बाद में यहां से 50 शीटर विमान का परिचालन किया जाएगा।

हवाई अड्डा का निरीक्षण करने के बाद स्थानीय सांसद के नेतृत्व में टीम ने प्रमंडलीय आयुक्त दयानिधान पांडेय से मुलाकात की। प्रमंडलीय आयुक्त ने ट्रायल के लिए अनुमति दिलाने का आश्वासन दिया। इधर, सांसद अजय कुमार मंडल ने कहा कि राइप एयरलाइंस की टीम ने तीन मई को 20 शीटर विमान का ट्रायल करने पर सहमति दी है। इसके साथ ही टीम ने हवाई अड्डा पर फ्यूल स्टेशन, वीआइपी लाउंज, रिटायरिंग रूम, सुरक्षा आदि को लेकर सवाल उठाए हैं।

श्री मिश्र ने कहा कि हवाई अड्डा पर या तो सरकार सारी सुविधाएं मुहैया कराएं या फिर पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनर्शिप) मोड में दस वर्षों के लिए भागलपुर हवाई अड्डा की जिम्मेवारी राइप एयरलांइस को सौंप दें। उन्होंने कहा कि राइप एयरलाइंस को भागलपुर हवाई अड्डा के रख-रखाव की जिम्मेवारी सौंपी जाती है, तो राइप एयरलाइंस ने सारी सुविधाएं अपने स्तर से उपलब्ध कराने की बात कही है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में वे मुख्यमंत्री और नागरिक उड्डयन मंत्री से मिलकर इस मामले पर विचार करेंगे। राइप एयरलाइंस के सीइओ अंकित कुमार ने कहा कि पहले उनकी कंपनी भागलपुर से 20 शीटर विमान का परिचालन शुरू करेगी। यात्रियों की स्ट्रेंथ और टाइम स्लाट बेहतर मिलता है, तो 50 शीटर विमान का परिचालन शुरू किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: