Urban Development Conclave : रीयल एस्टेट प्रोजेक्ट में पावर के लोड नोर्मस की स्टडी के लिए कमेटी गठित की जाएगी

Font Size

दूसरे राज्यों में पावर लोड नोर्मस की स्टडी कराएगा बिजली निगम : देवेंद्र सिंह

लोगों को गुणवत्ता परक तथा भरोसेमंद पावर इंफ्रास्ट्रक्चर मुहैया करवाने के लिए 33 केवी के सब स्टेशन जरूरी

गुरुग्राम। हरियाणा टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह ने कहा कि हरियाणा में डेवलपर्स की मांग पर एक कमेटी गठित की जाएगी जो आसपास के राज्यों में पावर के लोड नोर्मस की स्टडी करके एचईआरसी के सामने रखेगी ताकि पावर लोड के मामले का स्थाई समाधान हो और विभिन्न रीयल एस्टेट प्रोजेक्ट में रहने वाले लोगों को निर्बाध व उचित वोल्टेज की बिजली आपूर्ति मिले। बिना बिजली आपूर्ति की व्यवस्था किए कोई प्रोजेक्ट ग्राहकों को डिलीवर करना बेमानी है।

श्री सिंह शुक्रवार को गुरुग्राम के लीला होटल में आयोजित अर्बन डेवलपमेंट कॉन्क्लेव को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में रीयल एस्टेट क्षेत्र में बिजली तथा अग्निशमन इंफ्रास्ट्रक्चर से संबंधित मामलों पर मंथन हुआ। अतिरिक्त मुख्य सचिव ने कहा कि लोगों को गुणवत्ता परक तथा भरोसेमंद पावर इंफ्रास्ट्रक्चर मुहैया करवाने के लिए 33 केवी के सब स्टेशन लगाए जाने जरूरी है।डेवलपर्स को 33 केवी सबस्टेशन लगवाने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के मैनेजिंग डायरेक्टर पीसी मीणा ने कहा कि 33 केवी से डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम भविष्य की जरूरत को देखते हुए जरूरी है। इसमें सभी लाइने अंडर ग्राउंड होती है। यह लोगों की सुरक्षा की दृष्टि से भी बेहतर है। इस सिस्टम से बिजली की निर्बाध सप्लाई दी जा सकती है। साथ ही 11 केवी और 33 केवी के सब स्टेशन लगाने की लागत में ज्यादा अंतर नहीं है।

उन्होंने कहा कि जहां पर 33 केवी से कम क्षमता के पावर स्टेशन स्थापित किए गए हैं वहां पर डेवलपर्स को जनरेटर सेट प्रयोग करना पड़ता है। समय-समय पर एनजीटी की गाइड लाइन के अनुसार जनरेटर सेट को बंद रखना पड़ता है। ऐसे में एक तरफ लोगों को बिजली सप्लाई निर्बाध रूप से नहीं हो पाती, वही पर्यावरण में प्रदूषण की भी बढ़ोत्तरी होती है।

इस कार्यक्रम में उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के एमडी डॉ साकेत कुमार, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के महानिदेशक के मकरंद पांडुरंग, फायर सर्विस के डायरेक्टर जनरल अशोक मीणा, एम सी जी कमिश्नर मुकेश आहूजा, नारेडको के प्रतिनिधि नवीन रहेजा, क्रेडाई के प्रतिनिधि गौतम भल्ला ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: