भारतीय तैराक और टोक्यो ओलम्पियन श्रीहरि नटराज ने ‘चैंपियंस से मिलो’ पहल को आगे बढ़ाया : स्कूली बच्चों से मिलने के लिए बंगलुरू पहुंचे

Font Size

बंगलुरू:   भारतीय तैराक और टोक्यो ओलम्पिक में भाग ले चुके श्रीहरि नटराज ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई ‘चैंपियंस से मिलो’ पहल के लिए 19 फरवरी, 2022 को बंगलुरू के आर. वी. गर्ल्स हाई स्कूल का भ्रमण किया।

wps4BF2.tmp

कर्नाटक राज्य में पहली बार यह विशेष स्कूल भ्रमण अभियान हुआ, इससे पहले ओलम्पिक पदक विजेता नीरज चोपड़ा, बजरंग पूनिया ने क्रमशः गुजरात और हरियाणा का भ्रमण किया था और ओलम्पियन नाविक वरुण ठक्कर तथा केसी गणपति ने तमिलनाडु के स्थानीय स्कूलों का दौरा किया था।

 

युवा ओलम्पिक तैराक ने देश में इस तरह की पहल के महत्व के बारे में बताया, क्योंकि इससे देश में खेलों को प्रोत्साहन देने में मदद मिलती है। विद्यार्थियों के साथ संवाद करते हुए उन्होंने कहा कि यह अनुभव वास्तव में खासा अच्छा रहा और इस पहल का शुरू होना अच्छी बात है। इससे बच्चों को खेलों, फिटनेस, पोषण और स्वास्थ्य के महत्व को समझने में खासी सहायता मिलेगी। इससे न सिर्फ बच्चों को बल्कि देश में खेलों के विकास को भी खासा प्रोत्साहन मिलेगा।

wps4C71.tmp

उन्होंने  कहा,“यह पहल वास्तव में बच्चों के लिए प्रेरणादायी होने वाली है और उम्मीद है कि इससे हम और अधिक युवाओं से खेल तथा स्वस्थ जीवन शैली अपनाने की उम्मीद कर सकते हैं।” श्रीहरि ने विद्यार्थियों से ‘संतुलित आहार’, फिटनेस के महत्व पर बात की और उन्होंने अपनी खानपान की आदतों और खुराक से जुड़ी बातें साझा कीं। संवाद के बाद, श्रीहरि ने बैडमिंटन में हाथ आजमाया और कार्यक्रम में मौजूद विद्यार्थियों के साथ कुछ खेल खेले।

wps4C72.tmp

मेजबान स्कूल के सदस्यों के अलावा कर्नाटक से आए 75 स्कूलों के विद्यार्थी प्रतिनिधियों ने कार्यक्रम में भाग लिया और दक्षिण एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता के साथ अपने अनुभव साझा किए। साथ ही तैराकी और एक प्रतिस्पर्धी खिलाड़ी के रूप में उनके अनुभव के बारे में बातचीत की।

wps4CA1.tmp

‘चैंपियंस से मिलो’ पहल सरकार के ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ का हिस्सा है, जिसका शुभारम्भ ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने दिसंबर, 2021 में और पैरालम्पिक कांस्य पदक विजेता शरद कुमार ने जनवरी, 2022 में की थी।

स्कूल भ्रमण अभियान शिक्षा मंत्रालय और युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया जा रहा है, जिसमें ओलम्पियन और पैरालम्पियन स्कूली बच्चों के साथ अपने अनुभव, जीवन के सबक साझा करते हैं। साथ ही सही खानपान पर सुझाव देते हैं और प्रेरणा देते हैं।

आने वाले दिनों में, पैरालम्पिक पदक विजेता अवनि लेखारा और मरियप्पन थंगावेलु इस पहल को आगे बढ़ाएंगे और क्रमशः राजस्थान तथा तमिलनाडु राज्यों में स्कूलों का भ्रमण करेंगे।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: