अग्रवाल वैश्य समाज महिला, छात्र व सोशल मीडिया इकाई का गठन

Font Size

-महिला इकाई में सुशीला सर्राफ अध्यक्ष व वेणु अग्रवाल महासचिव

-छात्र इकाई की कमान दीपांशु को तो वहीं सोशल मीडिया संभालेंगे पंकज कसेरा

चंडीगढ़। अग्रवाल वैश्य समाज के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने संगठन की विभिन्न इकाईयों का विस्तार करते हुए महिला, छात्र एवं सोशल मीडिया व आईटी सैल का गठन किया है। ये जानकारी देते हुए संगठन के प्रदेश महासचिव राजेश सिंगला ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने महिला इकाई की कमान पुन: सुशीला सर्राफ फतेहाबाद को सौंपते हुए उन्हें अध्यक्ष नियुक्त किया है व उनके साथ वेणु अग्रवाल अम्बाला को महासचिव बनाया गया है। इसी क्रम में छात्र इकाई अग्रवाल वैश्य समाज स्टूडेंट आर्गेनाईजेशन की कमान दीपांशु बंसल पंचकूला को सौंपी गई है तथा आईटी एवं सोशल मीडिया की जिम्मेदारी पंकज कसेरा भिवानी को देते हुए उन्हें प्रदेश संयोजक बनाया गया है।

राजेश सिंगला ने बताया कि उपरोक्त सभी नियुक्तियां प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने नवनियुक्त पदाधिकारियों से साक्षात्कार पश्चात उनकी संगठन के प्रति रूचि, अनुभव और भविष्य की उनकी कार्ययोजनाओं से पूर्ण रूप से सहमत होने के पश्चात की है। ज्ञात रहें कि पिछले दिनों नए सत्र हेतू मुख्य कार्यकारिणी के गठन के दौरान सभी इकाईयों को भंग कर दिया गया था।  सुशीला सर्राफ लगातार 7वीं बार महिला इकाई की कमान संभालेगी। प्रदेशभर में महिलाओं पर उनकी संगठनात्मक रूप से अच्छी पकड़ है और समाज की महिलाओं को सामाजिक व राजनीतिक रूप से जागरूक कर उनके सशक्तिकरण में विशेष भूमिका रही है। उनके नेतृत्व में प्रदेश स्तर पर महिलाओं के दो शक्ति सम्मेलनों का आयोजन भी किया जा चुका है।

वहीं वेणु अग्रवाल भी राजनीति के साथ-साथ संगठन के कार्यों में सक्रिय रूप से काम करती है। वेणु अग्रवाल अम्बाला से विधानसभा चुनाव भी लड़ चुकी है और कांग्रेस की महिला इकाई में काम करने का अनुभव भी उनके पास है।

छात्र इकाई के प्रदेश अध्यक्ष की बात करें तो दीपांशु बंसल भी सक्रिय रूप से छात्र राजनीति से जुड़ें हुए है। इससे पूर्व वो छात्र इकाई में प्रदेश प्रवक्ता तथा उसके पश्चात प्रदेश महासचिव के पद पर कार्यरत थे। छात्र हितों की आवाज को दबंग तरीके से उठाते हैं और छात्र मुद्दों पर पैनी नजर भी रखते हैं। राजनीति रूप से वो एनएसयूआई आरटीआई सैल के राष्ट्रीय संयोजक भी है।

बात करें सोशल मीडिया व आईटी सैल संयोजक की तो पंकज कसेरा की तो उनकी शुरूआत भी छात्र राजनीति से होती है। समाज की छात्र इकाई में वो विभिन्न पदों पर काम कर चुके हैं। इसके उपरांत वो युवा इकाई में भी अलग-अलग पदों की जिम्मेदारियां उठा चुके हैं। सोशल मीडिया और उनसे जुड़ें मुद्दों पर उनकी अच्छी पकड़ है। राजनीति रूप से भाजपा की आईटी सैल में विशेष महत्व रखते हैं। राजेश सिंगला ने बताया कि निश्चित रूप से संगठन को उनकी नियुक्तियां का फायदा होगा और संगठन की मजबूती के साथ वैश्य समाज की राजनीतिक भागीदारी का संकल्प पूरा करने में भी उनकी अहम भूमिका होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: