टैक्स के विषय में कोई भी व्यक्ति हमारे पास आए, उसकी मदद करना हमारी प्राथमिकता : आयकर प्रधान आयुक्त

Font Size

-आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयकर विभाग मंे लगाया गया निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर
– आयकर विभाग के प्रधान आयुक्त प्रताप सिंह ने किया शिविर का उद्घाटन
– बेहतर स्वास्थ्य के लिए 70 प्रतिशत योगदान एक्सरसाईज तथा 30 प्रतिशत योगदान संतुलित खान-पान का

गुरूग्राम, 07 जनवरी। गुरुग्राम में आयकर विभाग के प्रधान आयुक्त प्रताप सिंह ने कहा कि टैक्स के विषय में पब्लिक का कोई भी व्यक्ति हमारे पास आए, उसकी मदद करना हमारी प्राथमिकता है। वे आज गुरुग्राम में आयकर विभाग में लगाए गये निशुल्क स्वास्थ्य जाँच शिविर का शुभारम्भ करने के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। आयकर कार्यालय गुरुग्राम के शंकर चौक स्थित एचएसआईआईडीसी बिल्डिंग में है जिसकी 8वीं मंजिल पर यह शिविर लगाया गया था।

शिविर में आँखों की दृष्टि, ईएनटी, हार्ट, दंत रोग , बीपी व शुगर , बोन डेन्सिटी, ओरथो , कैन्सर, स्त्रीरोग आदि का चेक अप किया गया। यह शिविर आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत लगाया गया था। शिविर का आयोजन राजस्थान क्लब तथा आर्टेमिस अस्पताल के सहयोग से किया गया था। इस अवसर पर श्री प्रताप सिंह ने कहा कि हम टैक्स कलेक्शन तो करते ही हैं लेकिन यह आज़ादी का अमृत महोत्सव हमारे लिए समाज से बेहतर जुड़ाव का अवसर प्रदान करता है। इसी कड़ी में हम समाज के लोगों व स्कूल के विद्यार्थियों को शामिल करते हुए भविष्य में भी इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करेंगे।

टैक्स के विषय में कोई भी व्यक्ति हमारे पास आए, उसकी मदद करना हमारी प्राथमिकता : आयकर प्रधान आयुक्त 2
उन्होंने कहा कि टैक्स पेयर हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं। हम उनकी कद्र करते हैं और उनकी मदद को तत्पर रहते हैं। आज़ादी का अमृत महोत्सव जहाँ एक ओर हमारे देश की अब तक की उपलब्धि का आँकलन करने का अवसर है, वहीं अब हमें भविष्य की योजना भी बनानी है। उन्होंने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य के लिए 70 प्रतिशत योगदान अभ्यास का और 30 प्रतिशत योगदान डाइट अर्थात् खान पान का होता है। उन्होंने कहा कि अभ्यास में योग बेहतर है, इसलिए हम सभी को योग अपनाते हुए अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए।

 

उन्होंने महामारी के दौरान कोविड प्रोटोकोल का पालन करने की भी अपील की। आयकर कार्यालय के कर्मचारी व अधिकारी और उनके परिजनो सहित 550 लोगों ने शिविर का लाभ उठाया और अपने स्वास्थ्य का चैकअप करवाया। आयकर विभाग के प्रवर आयुक्त ए के धीर ने सभी का स्वागत किया और कहा कि हमें दवाओं से दूर रहने के लिए मेडिटेशन, एक्सरसाइज़ तथा सही डाइट ( एमईडी) का फ़ार्मूला अपनाना चाहिए। श्री धीर ने कहा कि महामारी के समय में आयकर विभाग के अमले के स्वास्थ्य का ध्यान रखना भी ज़रूरी है।टैक्स के विषय में कोई भी व्यक्ति हमारे पास आए, उसकी मदद करना हमारी प्राथमिकता : आयकर प्रधान आयुक्त 3

श्री धीर ने कार्यक्रम में अपने गीतों से समा बाँधा, मुकेश के गीत – ‘ तूफ़ान को आना है, आ कर चले जाना है , बादल है ये कुछ पल का, छा कर ढल जाना है, परछाइयाँ रह जाती, रह जाती निशानी है , ज़िंदगी और कुछ भी नहीं, तेरी मेरी कहानी है ‘ को खूब सराहा गया।

इस अवसर पर आर्टीमिस अस्पताल से डा. रजत गुप्ता व उनकी टीम ने शिविर में आए लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। आयकर विभाग से महेंद्र अरोड़ा ने आए हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: