भाजपा ने पीएम की सुरक्षा चूक के लिए पंजाब की चन्नी सरकार को जिम्मेदार ठहराया , कांग्रेस पर बोला हमला

Font Size

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा चूक को लेकर आज भारतीय जनता पार्टी की ओर से पंजाब की चरणजीत सिंह चन्नी सरकार पर तीखा हमला बोला गया। पार्टी की नेता एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पत्रकार वार्ता में कहा कि आज कांग्रेस की चन्नी सरकार ने प्रधानमंत्री आदरणीय श्री @narendramodi जी की सुरक्षा में भारी चूक की है। यह लोकतंत्र की हत्या है और संविधान के खिलाफ है। पंजाब की कांग्रेस सरकार को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए।

स्मृति ईरानी में इस पूरे घटनाक्रम को लेकर मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की तीखी आलोचना की। उन्होंने कहा कि जो लोग इस षड्यंत्र का हिस्सा हैं, उनसे मैं कहती हूं कि मेरा विश्वास है कि न्याय निश्चित रूप से होगा। देश के प्रधानमंत्री का बाल बांका करने की इस साजिश को देश समर्थन नहीं देगा।

उन्होंने कहा कि भारत के इतिहास में आज पंजाब की पुण्य धरती पर कांग्रेस पार्टी के खूनी इरादे नाकाम रहे। जो लोग कांग्रेस में मोदी से घृणा करते हैं, वो आज देश के प्रधानमंत्री की सुरक्षा को किस तरह भंग किया जाए, उसके लिए प्रयासरत थे।

इस घटना पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया में कांग्रेस पार्टी को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि आज पंजाब में प्रधानमंत्री श्री @narendramodi की सुरक्षा के साथ जिस तरह की लापरवाही बरती गयी है वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं शर्मनाक है। राजनीतिक मतभेद के कारण प्रधानमंत्री जैसे संवैधानिक पद की सुरक्षा को ताक पर रखना कांग्रेस की अलोकतांत्रिक सोच और उनकी मानसिकता का परिचायक है।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंदारिया ने इस घटना पर रोष व्यक्त करते हुए कहा कि आज कांग्रेस ने लोकतंत्र की सारी मर्यादाओं को तोड़ दिया है। प्रधानमंत्री @NarendraModi जी की सुरक्षा में हुई चूक पंजाब सरकार की विफलता और उनके मानसिक दिवालियेपन को साफ दर्शाती है। राजनीतिक मतभेदो के कारण उनका रास्ता रोककर सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करना बेहद निंदनीय है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने पंजाब सरकार की कार्यशैली की तीव्र निंदा करते हुए कहा कि आज का दिन आपातकाल से भी काला दिन है। मैं आज पंजाब में कार्यक्रम स्थल पर उपस्थित था। मैंने पंजाब की जनता में ₹42 हज़ार करोड़ की परियोजनाओं के मिलने का उत्साह देखा और जब मैं घोषणा कर रहा था की प्रधानमंत्री जी नहीं आ सकते तो अपने प्यारे प्रधानमंत्री के ना आने की मायूसी भी देखी।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: