जलवायु जागरूकता अभियान और राष्ट्रीय फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन

Font Size

जलवायु जागरूकता अभियान

नई दिल्ली :  आवास एवं शहरी मामले मंत्रालय की ओर से जलवायु परिवर्तन जागरूकता अभियान और राष्ट्रीय फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। गुजरात के सूरत में 4 और 5 फरवरी 2022 को आयोजित मुख्य आयोजन ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव- स्मार्ट शहर: स्मार्ट शहरीकरण’ से  जुड़े क्रियाकलापों के हिस्से के रूप में यह प्रतियोगिता 26 जनवरी 2022 तक सभी प्रतिभागियों के लिए खुली रहेगी। अभियान और प्रतियोगिता दोनों का उद्देश्य जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न चुनौतियों को संवेदनशील बनाना, प्रतिभागियों को समाधानों के विचारों से अवगत कराना और शहरों में जलवायु से जुड़े क्रियाकलापों को बढ़ावा देना है।

जलवायु जागरूकता अभियान:

इस अभियान में नगर आयुक्त और मुख्य शहरी स्थानीय निकायों के प्रमुख तथा स्मार्ट सिटी सीईओ शामिल होंगे, जो शहरी जलवायु परिवर्तन और स्थिरता से जुड़ी चुनौतियों तथा समाधानों के लिए युवाओं की सोच को प्रेरित करने के लिए अपने शहरों के भीतर स्कूलों और कॉलेजों सहित शैक्षणिक संस्थानों में जागरूकता पैदा करेंगे। नगरों की ओर से इस आयोजन से पहले अपने क्षेत्रों में निम्नलिखित गतिविधियों में से एक या अधिक का आयोजन किया जाएगा:

• जलवायु परिवर्तन जागरूकता अभियान: शहर के अधिकारी जलवायु परिवर्तन और सतत क्रियाकलापों के बारे में शैक्षणिक संस्थानों में जागरूकता पैदा करेंगे।

• जलवायु परिवर्तन पर सोशल मीडिया अभियान: शहर के अधिकारी एक सोशल मीडिया जागरूकता अभियान चलाएंगे जहां शहर की अग्रणी हस्तियां जैसे मेयर/नगर आयुक्त/स्मार्ट सिटी सीईओ जलवायु संबंधी क्रियाकलापों के बारे में बात करेंगे, जिन्हें उनके शहर के भीतर लागू किया जा सकता है। जिन मुद्दों पर चर्चा की जाएगी उनमें अन्य बातों के साथ-साथ वृक्षारोपण अभियान, जल निकायों की सफाई, ई-कचरे की रीसाइक्लिंग, आवासीय तथा वाणिज्यिक भवनों के भीतर सौर ऊर्जा को अपनाए जाने पर जोर देना या कोई अन्य पहल जो जलवायु अनुकूलन या शमन से जुड़े क्रियाकलापों को बढ़ावा देती है।

• फोटोग्राफी प्रतियोगिता को बढ़ावा देना: जलवायु परिवर्तन के मूल विषय पर आधारित एक शहर स्तरीय फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।

कार्यक्रमों का विवरण https://niua.org/c-cube/content/climate-change-awareness-campaign पर उपलब्ध है।

जलवायु जागरूकता अभियान

राष्ट्रीय फोटोग्राफी प्रतियोगिता:

प्रतिभागियों को तस्वीरें प्रस्तुत करने के लिए आमंत्रित किया जाता है जो या तो भारतीय शहरों पर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों पर ध्यान केंद्रित करती हैं और जलवायु परिवर्तन को अनुकूलित/कम करने के लिए व्यक्तियों, समुदायों या शहर के अधिकारियों द्वारा किए गए कार्यों पर ध्यान केंद्रित करती हैं। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए, दो श्रेणियों में तस्वीरें प्रस्तुत की जानी चाहिए:

• शहरों में जलवायु प्रभाव

• शहरों में जलवायु से जुड़े क्रियाकलाप

तस्वीरों का चयन सामग्री, रचना और तकनीक पर केंद्रित होगा। सभी इच्छुक फोटोग्राफर और जलवायु विषय पर उत्साही भागीदारी के विवरण के लिए https://niua.org/c-cube/content/national-photography-competition पर देख सकते हैं। फोटो जमा करने की प्रक्रिया 26 जनवरी, 2022 को रात 11:59 बजे बंद हो जाएगी।

 

 

आजादी का अमृत महोत्सव

आज़ादी का अमृत महोत्सव प्रगतिशील भारत के 75 साल और इसके लोगों, संस्कृति तथा उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास का उत्सव मनाने के लिए भारत सरकार की एक पहल है। यह महोत्सव देश के लोगों को समर्पित है, जिन्होंने न केवल भारत को अपनी विकास यात्रा में लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, बल्कि उनके भीतर आत्मनिर्भर भारत की भावना से प्रेरित – भारत 2.0 को क्रियाशील करने को लेकर प्रधानमंत्री श्री मोदी के सपने को पूरा करने की भी शक्ति है।

आजादी का अमृत महोत्सव भारत की सामाजिक-सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक पहचान की दिशा में प्रगति को समाहित करता है। “आज़ादी का अमृत महोत्सव” की आधिकारिक शुरुआत 12 मार्च, 2021 को हुई, जो हमारी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के लिए 75 सप्ताह शेष होने का प्रतीक है।

जलवायु जागरूकता अभियान जलवायु जागरूकता अभियान जलवायु जागरूकता अभियान जलवायु जागरूकता अभियान जलवायु जागरूकता अभियान जलवायु जागरूकता अभियान 

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: