बिहार में कोरोना संक्रमण की तेज होती रफ्तार के कारण एक सप्ताह के लिए प्रतिबंध लगाने की तैयारी

Font Size

पटना । बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि राज्य में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए सभी जिले की समीक्षा करने के लिए जिला कलेक्टर को कहा गया है। इस मामले पर आगे क्या कार्रवाई करनी है या फिर किस प्रकार की पाबंदी लगाई जाएगी इसको लेकर पूरे राज्य की समीक्षा के लिए मंगलवार को बैठक की जाएगी। उक्त बैठक में यह निर्णय लिया जाएगा कि कितने समय तक के लिए और किस प्रकार की पाबंदी लगाई जाए।

हालांकि उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में यह संकेत दिया कि आंशिक लॉकडाउन की दृष्टि से बहुत लंबे समय तक प्रतिबंध लगाया जाना व्यावहारिक नहीं होगा। इसलिए पहले चरण में लगभग 1 सप्ताह के लिए प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

देश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के कारण कई राज्यों ने अपने शिक्षण संस्थान और सिनेमा हॉल जिम स्टेडियम को बंद करने का ऐलान किया है। इनमें हरियाणा व दिल्ली जैसे राज्य शामिल हैं। हालांकि अब तक देश में आए कोविड-19 के कुल नए मामले में से 74% देश के 5 राज्यों से हैं इनमें महाराष्ट्र गुजरात दिल्ली केरल और गुजरात शामिल है। पिछले 2 से 3 दिनों में देश के अन्य राज्यों में भी कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: