पीएम मोदी से मिले हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय

44 / 100
Font Size

चण्डीगढ़ 26 जुलाई : हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने सोमवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से शिष्टाचार भेंट कर हरियाणा में संचालित की जा रही विकास एवं जनकल्याण की योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी । हरियााण के राज्यपाल का पदभार ग्रहण करने के बाद राज्यपाल श्री दत्तात्रेय की प्रधानमंत्री से यह पहली मुलाकात थी।

लगभग 20 मिनट तक चली इस मुलाकात में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कृषि विकास और किसान कल्याण से सम्बन्धित योजनाएं हर जरूरतमंद किसान तक पहुंचाई जानी चाहिए, ताकि देश के किसान आर्थिक रूप से और ज्यादा सुदृढ़ हों । उन्होंने ‘‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’’ पर बल देते हुए कहा कि पूरी पारदर्शिता के साथ लघु और सीमान्त किसानों के साथ केन्द्र सरकार द्वारा दी जा रही 6000 रूपये की वार्षिक सहायता बिना किसी विलम्ब के पहुंचनी चाहिए। इसी प्रकार से ‘‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’’ का भी जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना के तहत प्रभावित किसानों को भुगतान राशि निश्चित अवधि में पहुंचनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार यह सुनिश्चित करे कि कृषि विकास एवं किसान कल्याण से जुड़ी योजनाएं पूरी पारदर्शिता के साथ धरातल पर क्रियान्वित हों । किसानों को जैविक खेती की ओर आकर्षित करने के लिए केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से प्रोत्साहित कर किसानों में अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार किया जाना चाहिए।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने हरियाणा में हो रहे विकास की प्रशंसा करते हुए कहा कि हरियाणा प्रदेश विभिन्न क्षेत्रों में आत्म-निर्भर है ।
उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा लोगों को ‘‘आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’’ में शामिल करना चाहिए। इस योजना में कोरोना मरीज भी शामिल किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत मरीज का 5 लाख तक का मुफ्त ईलाज किया जा रहा है । यह स्वास्थ्य के क्षेत्र में क्रान्तिकारी कदम है।

श्री मोदी ने कहा कि देश में ‘‘ई-स्वरोजगार पोर्टल’’ और ‘‘प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना’’ की शुरूआत की गई है। गांव में ढांचागत सुविधाओं को मजबूत करने के लिए सरकार के अनेक महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट हैं। इन योजनाओं से ग्राम पंचायतें डिजीटाईजेशन की तरफ बढेंगी और पंचायत के कार्यों में भी पारदर्शिता बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि देश में ‘‘अंत्योदय अन्न योजना’’ शुरू की गई है। इस योजना से देश में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले व्यक्ति को कम पैसे में पूरे महीने का राशन उपलब्ध करवाया जाएगा। अब इस योजना के अन्तर्गत विकलांग व्यक्तियों को भी लाभार्थी बनाया गया है, जिन्हें 35 किलो राशन हर महीने प्रदान किया जाएगा।

श्री मोदी ने कहा कि हरियाणा की तीन ओर से सीमाएं राष्ट्रीय राजधानी से सटी होने के कारण प्रदेश में व्यापार और रोजगार की अपार सम्भावनाएं हैं।

उन्होंने प्रदेशवासियों को राज्य के आत्मनिर्भर बनने पर विशेष रूप से बधाई दी और हरियाणा सरकार की मुक्त कंठ से सराहना करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार प्रदेश के विकास में हर संभव सहायता को तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page