इलेक्ट्रॉनिक्स और आई टी मंत्रालय ने “उमंग ऐप” में मानचित्र सेवाओं को सक्षम बनाया, मैप माई इंडिया के साथ समझौता

16 / 100
Font Size

नई दिल्ली : इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) ने हाल के दिनों में सरकारी सेवाओं की ऑनलाइन माध्यम से प्रदान करने की सुविधा देकर नागरिकों के जीवन को आसान बनाने के लिए कई पहल की हैं। डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की पहल को और बढ़ाने के लिए, तथा ‘आत्मनिर्भर भारत’ की थीम को ध्यान में रखते हुए, एमईआईटीवाई ने मैप माई इंडिया के साथ एक समझौता ज्ञापन के माध्यम से उमंग ऐप” में मानचित्र सेवाओं को सक्षम बना दिया है।

उमंग के मैप माई इंडिया मानचित्रों के साथ एकीकरण के परिणामस्वरूप, नागरिक एक बटन के क्लिक पर अपने आस पास के निकटतम स्थान पर सरकारी सुविधाएं, जैसे मंडियां, ब्लड बैंक और बहुत कुछ जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। वे इसे मैप माई इंडिया द्वारा निर्मित भारत के सबसे विस्तृत और संवादात्मक सड़क और ग्राम स्तर के नक्शों पर भी देख सकेंगे। नागरिक उमंग ऐप और मैप माई इंडिया के बीच संपर्क के माध्यम से नेविगेशन के दौरान यातायात और सड़क सुरक्षा अलर्ट सहित स्थानों के लिए ड्राइविंग दूरी, दिशा-निर्देश और बारी-बारी से ध्वनि और दृश्य से मार्गदर्शन प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

उमंग ऐप ने निम्न सेवाओं में मैप माई इंडिया के माध्यम से मानचित्र कार्यक्षमता प्रदान करना शुरू कर दिया है :

 

  • मेरा राशन – उमंग के माध्यम से, उपयोगकर्ता ‘निकटतम उचित मूल्य की दुकानों की पहचान और दिशा के बारे में पता कर सकते हैं क्योंकि मैपमाईइंडिया एकीकृत मानचित्र पर पॉइंटर्स के रूप में दुकानें दिखाई देती हैं।
  • नाम– उमंग के माध्यम से, ‘मंडी नियर मी’ सेवा उपयोगकर्ताओं को मानचित्र पर दिखाई गई पास की मंडियों को पहचानने और नेविगेट करने में मदद करेगी।
  • दामिनी – ‘दामिनी लाइटनिंग अलर्ट सेवा उपयोगकर्ताओं को आस-पास के क्षेत्रों का एक दृश्य दिखाकर बिजली गिरने की चेतावनी प्रदान करने के लिए है जहां पिछले कुछ मिनटों में बिजली गिरी है। यह चेतावनी तंत्र मानचित्र पर बिजली गिरने की संभावना वाले स्थानों के बारे में जानकारी प्रदान करता है।

 

नागरिकों के लिए उपयोगिता को और बढ़ाने के लिए, मानचित्र की कार्यक्षमता शीघ्र ही कई और सेवाओं में सक्षम की जाएगी जैसे:

  • ईएसआईसी – उपयोगकर्ता ईएसआईसी केंद्रों जैसे अस्पतालों / औषधालयों को मानचित्र पर देख सकते हैं और उनके मार्ग के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं।
  • इंडियन ऑयल – यह सेवा आस-पास के गैस स्टेशनों के के खुदरा और वितरकों के साथ-साथ ईंधन भरने वाले स्टेशनों का पता लगाने के लिए है।
  • एनएचएआई: इसके माध्यम से उपयोगकर्ता यात्रा के दौरान टोल प्लाजा और टोल दरों की जानकारी देख सकते हैं।
  • राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबीमानचित्र पर आस-पास के पुलिस स्टेशनों से संबंधित जानकारी प्रदान करता है।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (मेरी सड़क) उपयोगकर्ताओं को मैप माई इंडिया प्लेटफॉर्म पर सड़क का चयन करके क्षतिग्रस्त सड़कों (पीएमजीएसवाई के तहत) की शिकायतों को सही जगह पहुंचाने में मदद करेगी।

 

Screenshot_20200521-232416

 

उमंग के बारे में:

उमंग मोबाइल ऐप (यूनिफाइड मोबाइल एप्लिकेशन फॉर न्यू-एज गवर्नेंस) भारत सरकार का एकल, एकीकृत, सुरक्षित, मल्टी-चैनल, मल्टी-प्लेटफॉर्म, बहुभाषी, मल्टी-सर्विस मोबाइल ऐप है, जो उच्च प्रभाव वाली सेवाओं विभिन्न संगठन (केंद्र और राज्य) तक पहुंच प्रदान करता है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 2017 में उमंग ऐप की शुरूआत की थी। उमंग नागरिकों के मोबाइल फोन पर सरकार को सुलभ बनाने के बड़े लक्ष्य के साथ एक ही मोबाइल ऐप पर प्रमुख सरकारी सेवाएं लाता है। आज तक, उमंग 257 विभागों और 32 राज्यों से लगभग 1251 सेवाएं प्रदान करता है और लगभग 20,280 उपयोगिता बिल भुगतान सेवाएं और कई अन्य सेवाएं भविष्य में आने वाली हैं। उमंग यूजर बेस ने एंड्रॉइड, आईओएस, वेब और काईओएस प्लेटफॉर्म पर 3.41 करोड़ की संख्या को पार कर लिया है। नागरिक उमंग से अपने डिजिलॉकर खातों तक भी पहुंच सकते हैं और रैपिड असेसमेंट सिस्टम (आरएएस) के माध्यम से किसी भी सेवा का लाभ उठाने के बाद अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं, जिसे उमंग के साथ एकीकृत किया गया है।

 

मैप माई इंडिया के बारे में:

मैप माई इंडिया, 1995 में नई दिल्ली, भारत में स्थापित और मुख्यालय वाली एक स्वदेशी कंपनी का उत्पाद है, जिसने पूरे देश का डिजिटल रूप से मानचित्रण किया है। यह उपयोगकर्ताओं को आस-पास के प्रासंगिक स्थानों को खोजने और उन्हें विस्तृत भवन स्तर के नक्शे पर देखने में मदद करता है। मैप माई इंडिया के एपीआई ऐप और प्रौद्योगिकी डेवलपर्स को भारत के अपने स्वदेशी, आत्मनिर्भर मानचित्रों को अपने ऐप में आसानी से एकीकृत करने में सक्षम बनाते हैं।

उमंग ऐप को 97183-97183 पर मिस्ड कॉल देकर डाउनलोड किया जा सकता है और डाउनलोड के लिए निम्नलिखित लिंक पर उपलब्ध है:

  1. वैब: https://web.umang.gov.in/web/#/
  1. एंड्रॉइड: https://play.google.com/store/apps/details?id=in.gov.umang.negd.g2c
  1. आईओएस: https://apps.apple.com/in/app/umang/id1236448857

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page