हरियाणा में नंबरदारी खत्म नहीं की जाएगी : दुष्यंत चौटाला

9 / 100
Font Size

विकास कार्यों पर निगरानी के लिए भी लगाई जाएगी नबंरदार की जिम्मेदारी

हर माह की निश्चित तिथि को मिलेगा मानदेय

चंडीगढ़ :  हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने घोषणा की कि नंबरदारों का पद खत्म नहीं किया जाएगा, वे निश्चिंत रहे। यही नहीं भविष्य में राज्य के नंबरदारों को हर माह एक निश्चित तिथि को मानदेय दिया जाएगा ताकि उनको कईकई माह तक इंतजार करना पड़े। राज्य सरकार द्वारा सभी नंबरदारों को आयुष्मान भारत योजना से जोड़ दिया गया है तथा जल्द ही स्मार्ट फोन भी उपलब्ध करवा दिया जाएगा।

डिप्टी सीएम, जिनके पास राजस्व विभाग का प्रभार भी है, को आज यहां हरियाणा नंबरदार एसोसिएशन द्वारा सम्मानित किया गया। इस अवसर पर एसोसिएशन के प्रधान श्री आजाद सिंह खाण्डेवाला भी उपस्थित थे।

श्री चौटाला ने नंबरदारों को आधुनिक तकनीक से जुडऩे का आहवान करते हुए कहा कि नंबरदार की हमारे समाज में एक अलग पहचान सम्मान होता है। उन्होंने नंबरदारों को अच्छे सुझाव देने के लिए आमंत्रित किया ताकि उनको गांव, कस्बा, ब्लॉक, तहसील, जिला स्तर आदि पर होने वाले सोशलऑडिट में शामिल किया जा सके। उन्होंने कहा कि पंचायतीराज संस्थानों द्वारा करवाए जाने वाले विकास कार्यों पर निगरानी के लिए जो कमेटी गठित की जाएगी उसमें नंबरदारों को भी शामिल किया जाएगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं, इन योजनाओं में नंबरदार क्या भूमिका निभा सकते हैं, इस बारे में भी नबंरदार सुझाव दें ताकि समाज के विकास में उनकी अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित की जा सके। अगर ज्यादा भागीदारी होगी तो नंबरदार के मानदेय में और अधिक बढ़ोतरी की जा सकेगी तथा तहसील स्तर पर उनको बैठने काम करने के लिए एक स्पेशल कमरा दिया जा सकेगा।

 दुष्यंत चौटाला ने कहा कि  प्रदेश सरकार की सोच है कि राज्य की तरह प्रत्येक गांव, ब्लॉक, तहसील जिला के लिए फिक्सडसेलरी का बजट बनाया जाए ताकि बेहतर ढ़ंग से संस्थागत विकास हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page