कोरोना रोकथाम के लिए गुरुग्राम सहित सभी जिले को 9 करोड़ 40 लाख रु

49 / 100
Font Size

गुरूग्राम, 28 अप्रैल। प्रदेश में कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में कंटेनमेंट के उपाय करने के लिए राज्य सरकार ने गुरूग्राम जिला सहित राज्य के सभी जिलों के लिए 9 करोड़ 40 लाख की राशि स्वीकृत की है। इस राशि से कोविड-19 के कंटेनमेंट उपाय जिनमें क्वारनटाइन करना, सैंपल एकत्रित करना, स्क्रीनिंग करने के अलावा, आवश्यक उपकरणों की खरीद करना शामिल है। 

हरियाणा सरकार के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने कहा है कि यह खर्च स्टेट डिजास्टर रिस्पोंस फंड्स से वहन होगा, जोकि भारत सरकार द्वारा दिया जाता है। उन्होंने बताया कि राज्य के सभी जिलों के लिए स्वीकृत की गई 9 करोड़ 40 लाख रूप्ए की राशि में से 7 करोड़ रूप्ए की राशि गुरूग्राम सहित प्रदेश के 14 जिलों के लिए स्वीकृत की गई है। इन जिलों में गुरूग्राम के अलावा, जिला फरीदाबाद, सोनीपत, हिसार, अंबाला, करनाल, पानीपत, रोहतक, रेवाड़ी, पंचकुला, कुरूक्षेत्र, यमुनानगर, सिरसा और जींद शामिल हैं।

इसके अलावा, 2 करोड़ 40 लाख रूपए की राशि अन्य 8 जिलों के लिए स्वीकृत की गई है जिनमें जिला महेंद्रगढ़, भिवानी, झज्जर, पलवल, फतेहाबाद, कैथल, चरखी दादरी और नूंह जिले शामिल हैं।  इस राशि का प्रयोग कोरोना से प्रभावित लोगों के लिए अस्थाई आवासीय सुविधाओं की व्यवस्था करने, खाद्य वस्तुएं, कपडे़ और मैडिकल केयर का प्रबंध करने पर किया जा सकता है। यही नहीं, कलस्टर कंटेनमेंट आॅप्रेशन या होम क्वारनटाइन से अलग रहने वाले लोगों के लिए क्वारनटाइन की व्यवस्था करने पर भी इस राशि का प्रयोग किया जा सकता है।

इसके अतिरिक्त सैंपल कलेक्शन और चैकिंग, स्क्रीनिंग तथा काॅन्टेक्ट टेªसिंग आदि के लिए उपयोग होने वाली वस्तुओं व सामान जुटाने पर भी इस राशि में से खर्च किया जा सकता है।  श्री कौशल ने बताया कि स्वीकृत धनराशि में से टेस्टिंग किट खरीदने या लोगों के लिए अतिरिक्त टेस्टिंग लैब स्थापित करने पर भी खर्च किया जा सकता है। हैल्थ केयर के अंतर्गत नगर निगम व नगरपालिका, पुलिस तथा अग्निशमन सेवाओं से जुड़े कर्मियों के लिए पीपीई किट भी खरीदी जा सकती हंै।

इनके अलावा, अस्पतालों में थर्मल स्कैनर, वेंटिलेटर, एयर प्युरिफायर, आॅक्सीजन का उत्पादन करने और मरीजों के लिए एंबुलेंस सेवा को सुदृढ़ करने, कंटेनमेंट जोन बनाने, सरकारी अस्पतालों में मरीजों के लिए व्यवस्था करने जैसे कोविड अस्पताल या कोविड केयर सैंटर स्थापित करने आदि पर इस राशि का उपयोग किया जा सकता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page