मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा सौर पुरस्कारों के लिए भारत से डॉ भीम सिंह और यूएई से डॉ आयशा की घोषणा की

Font Size

चंडीगढ़, 14 अक्तूबर। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कल्पना चावला हरियाणा सौर पुरस्कारों के लिए भारत के डॉ भीमसिंह व संयुक्त अरब अमीरात की डॉ. आयशा अलनुऐमी के नामों की  घोषणा की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सौर ऊर्जा क्षेत्र में इनका योगदान वैज्ञानिकों को सदैव प्रेरित करेगा। प्रत्येक पुरस्कार प्राप्तकर्ता को पुरस्कार स्वरूप  24 लाख 40 हजार रूपये प्रदान किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज नई दिल्ली में हरियाणा भवन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित अंतरराष्ट्रीय सौर संगठन (इंटरनेशनल सोलर अलायंस) के तृतीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार ने अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला की चिरस्थायी स्मृति में कल्पना चावला हरियाणा सौर पुरस्कार स्थापित किए हैं। इन पुरस्कारों के स्थापित होने से पूरे विश्व में वैज्ञानिकों को सौर ऊर्जा क्षेत्र में न केवल प्रोत्साहन मिलेगा अपितु कन्याओं को बचाने व शिक्षा के माध्यम से सशक्तिकरण की दिशा में चल रहे ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान को और अधिक बल मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने बताया कि कल्पना चावला का जन्म 17 मार्च,1962 को करनाल (हरियाणा) में हुआ और अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा करनाल से ही पूरी की। कल्पना चावला ने वर्ष 1982 में पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, चंडीगढ़ से वैमानिकी यांत्रिकी में स्नातक डिग्री प्राप्त की। कल्पना चावला वर्ष 1982 में संयुक्त राज्य अमेरिका चली गई और वर्ष 1984 में अंतरिक्ष इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त की। इसके उपरांत कल्पना चावला ने वर्ष 1986 में दूसरी स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त की और अमेरिका से ही वर्ष 1988 में अंतरिक्ष इंजीनियरिंग में पी एच डी की उपाधि प्राप्त की। कल्पना चावला ने वर्ष 1995 में नासा में अतंरिक्ष यात्री का पद ग्रहण किया। कल्पना चावला का वर्ष 1996 में प्रथम बार अंतरिक्ष यात्रा के लिए चयन हुआ। कल्पना चावला प्रथम भारतीय अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री और प्रथम भारतीय महिला अंतरिक्ष यात्री थी। वर्ष 2003 में 1 फरवरी को कोलंबिया अंतरिक्ष यान दुर्घटना में मरने वाले सात सदस्यीय अंतरिक्ष यात्री दल में कल्पना चावला भी शामिल थी।

मनोहर लाल ने कहा कि हमारे लिए गर्व का विषय है कि अंतराष्ट्रीय सौर संगठन का मुख्यालय गुरुग्राम में स्थापित है। कल्पना चावला हरियाणा सौर पुरस्कारों की स्थापना के लिए हरियाणा सरकार ने अंतराष्ट्रीय सौर संगठन के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया था। इसके लिए 10 करोड़ रूपये की समग्र निधि निर्धारित की गई है।

       उल्लेखनीय है कि कल्पना चावला हरियाणा सौर पुरस्कार के लिए चयनित डॉ भीम सिंह भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली में इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग विभाग में प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं और डॉ आयशा अलनुऐमी संयुक्त अरब अमीरात में दुबई विद्युत एवं जल प्राधिकरण में सौर नवीकरण केंद्र की निर्देशक हैं।

       कार्यक्रम में हरियाणा अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण के निदेशक डॉ हनीफ कुरैशी भी शामिल हुए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: