गुरुग्राम् पुलिस और अपराधियों के बीच मुठभेड़, 3 शार्प शूटरों को लगी गोली, 2 पुलिसकर्मी भी घायल

Font Size

गुरुग्राम्। कुख्यात बदमाश सुबे गुर्जर गैंग के 03 कुख्यात शॉर्प शूटरों को मुठभेङ के बाद अपराध शाखा सैक्टर-39, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने किया काबू। मुठभेङ में तीनों आरोपियों को लगी गोली, 02 पुलिसकर्मी भी हुए घायल, बुलेट प्रुफ जैकेट के कारण बाल-बाल बची पुलिस टीम, सभी घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में कराया दाखिल।

✍️ पुलिस टीम ने बदमाशों के कब्जा से 02 अंग्रेजी पिस्तौल, 02 रिवाल्वर, 01 देशी कट्टा, 110 जिन्दा कारतूस, 01 पिट्ठू बैग, 01 मोटरसाईकिल (अपाचे) तथा घटनास्थल से खाली खोल किए बरामद।

✍️ जान की बाजी लगाकर मुठभेङ के बाद बदमाशों को काबू करने वाली अपराध शाखा सैक्टर-39, गुरुग्राम की पुलिस टीम को पुलिस आयुक्त महोदय, गुरुग्राम ने 02 लाख नगद ईनाम व प्रथम श्रेणी प्रसंशा पत्र देकर किया जाएगा सम्मानित।

▪️आज दिनांक 06.10.2020 को उप-निरीक्षक राजकुमार, प्रभारी अपराध शाखा सैकटर-39, गुरुग्राम की पुलिस टीम अपने गुप्त सुत्रों के माध्यम से सूचना मिली कि कुख्यात बदमाश सुबे गैंग के 03 शॉर्प शूटर धुनेला गाँव में एक प्रोपर्टी डीलर की हत्या करने के लिए घूम रहे है। तीनों ही बदमाश अत्यन्त ही शातिर व कुख्यात है जो पुलिस को देखते ही हमला भी कर सकते है।

▪️इस सूचना पर उप-निरीक्षक राजकुमार, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-39, गुरुग्राम ने तुरन्त एक स्पेशल पुलिस टीम का गठन किया और टीम के सभी सदस्यों को सूचना व अपराधियों के बारे में संपूर्ण जानकारी देते हुए बदमाशों को पकङने के लिए सभी पुख्ता इन्तजाम किए व पुलिस टीम के पास उपलब्ध 02 बुल्ट प्रुफ जैकेट टीम को लीड करने वाले पुलिस अधिकारिओँ ने पहन ली व कानून की औपचारिकताओं को पूरा करते हुए कुख्यात बदमाशों को ढूढने के लिए तैनात हो गए।

▪️उक्त सूचना पर बङी ही कुशलता से कार्यवाही करते हुए पुलिस टीम ने बदमाशों की नंगली रोङ पर तलाश शुरु कर दी कुछ ही देर बाद एक बिना नम्बर की मोटरसाईकिल पर 03 युवक दिखाई दिए, जिन्हें पुलिस टीम ने रुकने का ईशारा किया तो मोटरसाईकिल चालक मोटरसाईकिल को वापिस मोङकर भागने लगे, पुलिस टीम ने जब उनका पीछा किया तो मोटरसाईकिल के पीछे बैठे युवक ने पुलिस टीम पर गोलियां चलाई जो पुलिस की गाङी पर लगी। इसी दौरान पुलिस टीम ने कन्ट्रोंल रुम को इस सम्बन्ध में सूचना दी और आगे दूसरी पुलिस टीम द्वारा नाका लगाने के बारे में कहा।

▪️पुलिस टीम पर आरोपी लगातार गोलियां चला रहा था, किन्तु पुलि टीम ने बङे ही साहस व निडरता का परिचय देते हुए आरोपी का पीछा किया व पुलिस टीम ने जवाबी कार्यवाही करते हुए गोलीयां चलाई तो मोटरसाईकिल के पीछे बैठे युवक के पैर में गोली लगी। गोली लगने का कारण मोटरसाईकिल को संतुलन बिगङ गया और मोटरसाईकिल नीचे गिर गई और मोटरसाईकिल चालक व बीच में बैठा युवक मोटरसाईकिल को व जिस युवक को गोली लगी थी उसे वही छोङकर भागने लगे, तभी पुलिस टीम ने जिस युवक को गोली लगी थी उसे काबू कर लिया। पुलिस से बचने के लिए अलग-अलग दिशा में भागने वाले दोनों युवकों में से एक और युवक के पीछे दौङते हुए जल्दी ही काबू कर लिया, जिसके पैर में चोट लगी हुई थी। तीसरे युवक का पीछा उप-निरीक्षक राजकुमार व साथी पुलिसकर्मी कर रहे थे और वह भागते हुए पुलिस टीम पर गोलियां चला रहा था। इसी बीच दो गोलियां उप-निरीक्षक राजकुमार की छाती पर लगी। उप-निरीक्षक राजकुमार द्वारा बुलेटप्रूफ जैकेट होने के कारण वो बाल-बाल बचे। इसी दौरान बदमाश का पीछा कर रहे मुख्य सिपाही सुनील व मुख्य सिपाही अभिलाष को भी गोलियां लगी और दोनों घायल हो गए। पुलिस टीम ने युवक को आत्मसमर्पण करने की चेतावनी दी, किन्तु वह लगातार पुलिस पर गोलियां चलाता रहा, पुलिस टीम ने जवाबी कार्यवाही करते हुए अपने बचाव में गोली चलाई तो उसके पैर पर गोली लगी, गोली लगने के कारण वह नीचे गिर गया और पुलिस टीम ने उसे भी काबू कर लिया व उनके हथियार को पुलिस कब्जा में ले लिया।

▪️पुलिस टीम द्वारा काबू किए गए तीनों बदमाशों से उनका नाम व पता पूछा तो उन्होनें अपना नाम व पता निम्नलिखित बतलायाः-

1. राजेश फौजी पुत्र लीला राम निवासी राजीव कॉलोनी नाहरपुर रूपा गुरुग्राम।

2. कमल उर्फ कमली निवासी गांव बढ़ा जिला गुरुग्राम।

3. अमन निवासी मुंडिया कलां जिला लुधियाना पंजाब हाल EWS फ्लैट्स नजदीक टाटा प्रिवंती गुरुग्राम।

▪️इस मुठभेङ में घायल हुए उक्त आरोपियों व पुलिस अधिकारियों को उपचार के लिए हस्पताल में दाखिल कराया गया है।

▪️उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ थाना शहर सोहना, गुरुग्राम में कानून की सम्बन्धित धाराओँ के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪️उपरोक्त तीनों आरोपी कुख्यात बदमाश सुबे की गैंग के शॉर्प सूटर है और ये एक प्रोपर्टी डीलर को मारने के लिए यहां आए थे, किन्तु पुलिस टीम ने इन्हें पहले की काबू कर लिया।

▪️उपरोक्त तीनों आरोपी निम्नलिखित अभियोगों में वारदातों को अन्जाम दे चुके है तथा अब तक इन अभियोगों में वान्छित चल रहे थेः-

1. अभियोग संख्या 341, दिनांक 06.12.2018 धारा 302, 34, 120बी भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना मानेसर, गुरुग्राम।

2. अभियोग संख्या 421, दिनांक 10.07.2020 धारा 307, 386, 120बी भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना मॉडल टाऊन, रेवाङी।

3. अभियोग संख्या 341/2019 धारा 302, 120बी भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना हथिन, जिला पलवल।

▪️पुलिस टीम ने आरोपियों के कब्जा से 02 अंग्रेजी पिस्तौल, 02 रिवाल्वर, 01 देशी कट्टा, 110 जिन्दा कारतूस, 01 पिट्ठू बैग, 01 मोटरसाईकिल (अपाचे) तथा घटनास्थल से खाली खोल बरामद किए है।

▪️उपरोक्त तीनों आरोपी उपचाराधीन है। जिन्हें स्वस्थ होने के बाद अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया जाएगा और उनसे गहनता से पूछताछ करते हुए नियमानुसार आगामी कार्यवाही की जाएगी।

▪️श्री के.के.राव भा.पु.से., पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम ने उक्त मामले में अपनी जान की परवाह ना करते हुए उनके हौसले व ड्यूटी के प्रति समर्पण को देखते हुए तथा मुठभेङ के बाद 03 कुख्यात बदमाशों को काबू करने वाली पुलिस टीम को 02 लाख रुपए नगद ईनाम व प्रथम श्रेणी प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित करने की घोषणा की है साथ ही पुलिस घायल पुलिस अधिकारियों को जल्द ही स्वस्थ होने तथा उनकी कामयाबी के लिए शुभकामनाए दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: