केंद्रीय मंत्री रामबिलास पासवान नहीं रहे, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने जताया गहरा शोक

Font Size

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री रामबिलास पासवान नहीं रहे। उनका स्वास्थ्य पिछले काफी समय से खराब चल रहा था। बताया जाता है कि अभी हाल ही में उनका हृदय का आपरेशन हुआ था। सूचना आई थी कि उनकी तबियत में सुधार हो रहा है लेकिन गुरुवार देर शाम उनके पुत्र व लोकसभा सांसद चिराग पासवान ने ट्वीट कर अपने 74 वर्षीय पिता के निधन की जानकारी दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोबिन्द, उपराष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,  और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला सहित केंद्रीय ममत्रियों व विपक्ष के नेताओं ने उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

चिराग पासवान ने अपने ट्वीट में कहा कि ” पापा आप दुनिया में नहीं रहे, लेकिन मुझे पता है आप जहां भी है मेरे साथ रहेंगे।”

राष्ट्रपति रामनाथ कोबिन्द ने अपने शोक सन्देश में कहा  कि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से देश ने एक दूरदर्शी नेता खो दिया है। उनकी गणना सर्वाधिक सक्रिय तथा सबसे लंबे समय तक जनसेवा करने वाले सांसदों में की जाती है। वे वंचित वर्गों की आवाज़ मुखर करने वाले तथा हाशिए के लोगों के लिए सतत संघर्षरत रहने वाले जनसेवक थे।

राष्ट्रपति ने कहा कि आपातकाल विरोधी आंदोलन के दौरान जयप्रकाश नारायण जैसे दिग्गजों से लोकसेवा की सीख लेनेवाले पासवान जी  फायरब्रांड समाजवादी के रूप मे उभरे। उनका जनता के साथ गहरा जुड़ाव था और वे जनहित के लिए सदा तत्पर रहे। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति मेरी गहन शोक-संवेदना।

उपराष्ट्रपति वैकेंया नायडू ने कहा कि केन्द्रीय मंत्री व वरिष्ठ सांसद श्री राम विलास पासवान जी के निधन के निधन का सुनकर गहरा दुख हुआ। उन्होंने कहा की सार्वजनिक व संसदीय जीवन में हमारा लम्बा साथ रहा… और उनकी बहुत सी मधुर यादें अभी भी मेरे जेहन में हैं। अपने लंबे और यशस्वी राजनैतिक जीवन में वे दुर्बल वर्गों की एक सशक्त आवाज रहे।

उपराष्ट्रपति नायडू ने कहा कि श्री पासवान जी लोकतान्त्रिक मूल्यों के अनुकरणीय प्रतिनिधि रहे… अंतिम सांस तक देश की सेवा करते रहे। शोक की इस घड़ी में उनके परिजनों, मित्रों और समर्थकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदनाएं। ईश्वर  दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें। ॐ शांति!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामबिलास पासवान को बेहतरीन राजनेता, सांजसेवी और प्रसाशक बताया है। उन्होंने कहा कि उनका निधन उनके लिए व्यक्तिगत क्षति है। उनके साथ केबिनेट में काम करना, उनके द्वारा केबिनेट की बहस में हस्तक्षेप करना उनके लिए मार्गदर्शक का काम करता था। उन्होंने शोक संतप्त परिवार के लिए अपनी संवेदना व्यक्त की है।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने अपने संदेश में कहा कि केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान जी के निधन पर शोक व्यक्त करता हूँ। उन्होंने आजीवन समाज के वंचित-अभावग्रस्त वर्ग के कल्याण के लिए कार्य किया। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें। दुख की घड़ी में परिवार के प्रति गहन संवेदनाएँ।
ॐ शान्ति !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: