भ्रष्टाचारी अधिकारी कर रहे हैं बहादुर जवानों की वीरता को बेकार : योगेश शर्मा

Font Size

भारतीय प्राईवेट ट्रांसपोर्ट मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय महामंत्री ने बाल गंगाधर तिलक को किया याद

गुरुग्राम। महान स्वतंत्रता सेनानी और समाज सुधारक पंडित बाल गंगाधर तिलक की 100 वीं पुण्यतिथी के अवसर पर भारतीय प्राईवेट ट्रांसपोर्ट मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय महामंत्री योगेश शर्मा ने महासंघ के सिलोखरा स्थित प्रदेश कार्यालय पर आयोजित श्रद्वांजली सभा में, पंडित बाल गंगाधर तिलक की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित कार्यकर्तओं को अपने सम्बोधन में कहा कि आज हम आजाद देश के नागरिक के रूप में रह रहे है, लेकिन यह आजादी हमें बड़ी कुर्बानियां देने के बाद मिली है। कई लाख शहीदों ने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों को बलिदान किया है। योगेश शर्मा ने कहा कि पंडित जी का  “स्वराज मेरा जन्मसिद्व अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूंगा।” उद्वघोष बहुत लोकप्रिय हुआ और लोग उन्हें आदर से  लोकमान्य बुलाने लगे।

योगेश शर्मा ने कहा कि आज का भारत बिल्कुल अलग हो गया है। जिसकी कल्पना हमारे वीर शहीदों ने की थी, वह भारत कहीं दूर छूट गया है। आज देश में ऐसे अधिकारी है, जो देश व युवा पीढी को क्या राह दिखाएंगे, वो खुद भ्रष्टाचार में गले तक डूबे हुए है।

 मीडिया द्वारा पुछे गए सवाल के जवाब में योगेश शर्मा ने कहा कि जिस प्रकार से वर्तमान में गुरूग्राम का उदाहरण ले तो कोई बुरा नही होगा। गुरूग्राम की प्रसिद्व भौंडसी जेल के डिप्टी जेलर का अपराधियों को खुले आम गैर कानूनी चीजे देते ह्रए पकडे जाना बड़े दुर्भाग्य की बात है।
योगेश शर्मा ने कहा कि जिस प्रकार से हमारे पुलिस विभाग के बहादुर जवान और अधिकारी अपराधियों को पकड़ने के लिए अपनी जान को भी दाव पर लगा देते है, और भ्रष्ट अधिकारी केवल कुछ पैसे के लालच में  उन  अपराधियों को बढावा देते है और उनका पालन पोषण करते है, इससे तो साफ संदेश जाता है कि  ऐसे भ्रष्ट लोग देश और समाज के लिए तो कलंक है ही, साथ ही साथ ये लोग बहादुर जवानों की वीरता को भी बेकार करने का काम करते हैं।


योगेश शर्मा ने मांग की है कि जिस प्रकार से जेलों में मोबाईल व दूसरा प्रतिबंधित सामान मिलता है तो इसके लिए सीधे सीधे संबंधित अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाएं व साथ में जिस अपराधी के पास गैर कानूनी सामान जेल मे बरामद हो, उस अपराधी पर लगे अपराध में भी उस भ्रष्ट अधिकारी को शामिल किया जाएं।


योगेश शर्मा ने कहा कि गुरूग्राम की पूरी जनता गुरूग्राम पुलिस के साथ है, जिस प्रकार अपराधियों को पनाह देने वाले डिप्टी जेलर के बेटे ने खुलेआम अपना विडियों जारी करके पुलिस के जवानों को अपना तबादला करवाने की चेतावनी दी है, उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाई अमल में लाई जानी चाहिए और इस बात की भी गहनता से जांच करवाई जानी चाहिए कि उसके साथ कौन कौन अधिकारी और कर्मचारी अपराधियों को पनाह देने में शामिल हैं। साथ ही योगेश शर्मा ने गुरूग्राम पुलिस आयुक्त महोदय आदरणीय के. के. राव जी व उनके सभी पुलिस के अधिकारियों को  बधाई दी, जिन्होने बिना इस भ्रष्ट अधिकारी के रसूख की परवाह किए इतने बडे अपराधिक षडयंत्र को समाज के सामने उजागर किया।
इस अवसर पर उपस्थित कार्यकर्तओं ने पंडित बाल गंगाधर तिलक जी को नमन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: