भौंडसी जेल के डिप्टी जेलर के बेटे ने ऑडियो जारी कर जेल में बड़ा काण्ड करने की दी धमकी

Font Size

थाना भौडन्सी, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने आरोपी को कुछ घंटे में ही किया गिरफ्तार : एसीपी क्राइम

अपने पिता के पैसे पर अय्याशी करने वाले उक्त युवक ने जेल के अधिकारियों व कर्मियों को धमकाया

हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली, यूपी के सारे गैंगस्टर से सम्बन्ध होने का किया दावा

डिप्टी जेलर भी कैदियों को सिम और ड्रग सप्लाई करने के आरोप में जेल में है बंद

गुरुग्राम : “बड़े मियाँ तो बड़े मियाँ छोटे मियाँ सुभान अल्लाह ” यह कहावत भोंडसी जेल में कैदियों को सिम और ड्रग सप्लाई करने के मामले में चरितार्थ होता दिख रहा है. जेल में मोबाईल फोन, सिम कार्ड व नशीले पदार्थ सप्लाई करने के मामले में गिरफ्तार भौंडसी जेल के डिप्टी सुपरिडेन्ट ने तो कानून और नैतिकता की धज्जियां उड़ाई ही अब उनके साहबजादे भी उनसे एक कदम आगे निकल गए. ड्रग सप्लायर डिप्टी जेलर के बेटे ने एक ऑडियों रिकॉर्डिग को वायरल कर भौंडसी जेल के अधिकारियों व कर्मचारियों को जेल में बड़ा काण्ड करने की धमकी दे डाली. इस मामले शिकायत आने पर थाना भौडन्सी, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने आरोपी को कुछ घंटे में गिरफ्तार कर लिया है और अब दोनों पिता पुत्र उसी जेल में होंगे जहां के कैदियों को सिम और ड्रग स्पलाई कर उन पर लाखों कमाने का आरोप है।

Preetpal-Singh-ACP-Crime-Curugram

 

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह का कहना है कि उक्त आरोपी को सिरसा से गिरफ्तार किया गया है. अपने पिता के पैसे पर अय्याशी करने वाले उक्त युवक ने जेल के अधिकारियों व कर्मियों को धमकाया. डिप्टी सुपरिडेन्ट जेल धर्मबीर चौटाला को पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने के बाद उसके बेटे ने एक ऑडियो जारी कर यह धमकी दी थी. पुलिस ने उक्त आरोपी द्वारा वारदात में प्रयोग किया गया एक मोबाईल फोन भी उसके कब्जा से बरामद किया है।

 

उल्लेखनीय है कि गत 23 जुलाई 2020 को गुरुग्राम पुलिस ने जेल में मोबाईल फोन, सिम कार्ड व नशीले पदार्थ सप्लाई करने में संलिप्त भौंडसी जेल के डिप्टी सुपरिडेन्ट धर्मबीर चौटाला व उसके 01 साथी रवि उर्फ गोल्डी निवासी लखनऊ, उत्तर-प्रदेश हाल निवासी गाँव वजीराबाद, गुरुग्राम को गिरफ्तार किया था. इस दौरान डिप्टी सुपरिडेन्ट जेल के घर पर पुलिस छापेमारी में कुल 11 (4जी) सिम कार्ड व 230 ग्राम चरस भी बरामद की गई थी। इसी मामले में गुरुग्राम पुलिस द्वारा आरोपी डिप्टी सुप्रिडेंट जेल, भौंडसी से गहन पूछताछ की गई । आरोपी डिप्टी सुप्रिडेंट जेल, भौंडसी ने पैसे लेकर जेल में बंद जिन अपराधियों को सिम कार्ड व मोबाईल फोन दिए थे उन अपराधियों के नाम का खुलासा किया था । पुलिस टीम द्वारा 24जुलाई 2020 को जेल में बंद अपराधियों से कुल 12 मोबाईल फोन, 09 सिम कार्ड व 11 बैट्रियां (मोबाईल फोन) बरामद किए गए थे।

 

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह के अनुसार अपने पिता के काले कारनामे का खुलासा होने के बाद उक्त मामले में गिरफ्तार धर्मबीर चौटाला, डिप्टी सुपरिडेन्ट जेल के बेटे रवि चौटाला ने अब व्हाट्सएप के माध्यम से एक ऑडियों वायरल कर पिता के नाम में और चार चाँद लगा दिया. अपराधियों से सांठगाँठ रखने वाले डिप्टी सुपरिडेन्ट के बेटे ने जेल में कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों को ऑडियो के माध्यम से जेल में बङा काण्ड करने के धमकी दी। इस सम्बन्ध में थाना भौन्डसी, गुरुग्राम में शुक्रवार 31 जुलाई को संजय कुमार सहायक अधीक्षक जिला जेल भौन्डसी, गुरूग्राम द्वारा एक लिखित शिकायत की गई. लिखित शिकायत में बतया गया है कि शुक्रवार 31जुलाई 2020 को सांय समय लगभग 8 बजे जब वह खाना खाने के बाद जेल परिसर मे टहल रहे थे तो एक गुप्तचर द्वारा उनको एक ऑडियों सुनाई गई जो ऑडियो धर्मबीर चौटाला उप अधीक्षक के ल़डके रवि चौटाला की ओर से भेजी गई थी। गौरतलब है कि रवि चौटाला अपने पिता धर्मबीर चौटाला उप अधीक्षक जेल के सरकारी आवास जेल काम्प्लेक्स भौंडसी, गुरूग्राम मे रहता था इसलिए वह रवि चौटाला की आवाज पहचानता है।

Ravi-chautala son of Deputy Jailor

शिकायत में बताया गया कि उक्त ऑडियों में रवि चौटाला ने कहा है कि अब जेल में बङा काण्ड होगा. उसने कहा है कि गुरुग्राम जेल से जिन्होनें अपनी बदली करवानी है वो करवा लो। आगे उसने कहा है कि उसके पिता की जमानत होने दो फिर यह जेल सुपरिटेंट व डिप्टीयों के देख लेगा। उसने यहाँ तक कहा है कि हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली, यूपी के सारे गैंगस्टर उसके कोन्टक्ट में हैं । गुरुग्राम जेल में उसके पिता की बेइज्जती हुई है।

उन्होंने बताया कि ये रवि चौटाला, डिप्टी जेलर धर्मबीर चौटाला का बेटा है। फ़िलहाल धर्मबीर चौटाला   एन.डी.पी.एस एक्ट तहत दर्ज के मामले में भौंडसी जेल मे बंद है जो एक मॉडल जेल है जिसे भारत की बेहतरीन जेलों मे से एक माना जाता है।

एसीपी क्राइम के अनुसार शिकायत में बताया है कि उक्त ऑडियों के माध्यम से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पहुंचाने की कोशिश की गई है. ऑडियों में भौंडसी जेल मे बहुत बडा कांड करने की धमकी दी गई है। जेल के अधीक्षक, उप अधीक्षक और अन्य सरकारी मुलाजिमों को भी धमकी दी गई है। इस प्रकार धमकी देकर अधिकारियों व कर्मचारियों को उनके कर्तव्यो से दूर भागने के लिए मजबूर करने की कोशिश की गई है। इस शिकायत पर थाना भौन्डसी, गुरुग्राम में मामला दर्ज किया गया।

 

एसीपी ने कहा कि अभियोग में थाना भौन्डसी, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से व पुलिस प्रणाली को प्रयोग करते हुए ऑडियों वायरल कर धमकी देने वाले आरोपी को कुछ घंटे के अंदर ही शनिवार 01 अगस्त को भौंडसी, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान रवि आनन्द उर्फ चौटाला पुत्र धर्मबीर चौटाला निवासी गाँव चौटाला, थाना सदर डबवाली, जिल सिरसा, उम्र 30 वर्ष के रूप में हुई है।

आरोपी ने पुलिस पूछताछ में यह स्वीकार किया है कि इसके पिता धर्मबीर चौटाला को जेल में मोबाईल फोन, मादक पदार्थ सप्लाई करने के मामले में पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने के बाद इसने अपने दोस्तों के साथ बैठकर 24 जुलाई 2020 को ही इस ऑडियों की रिकॉर्डिंग की थी। उसके बाद यह ऑडियों इसके दोस्तों व इसके माध्यम से वायरल होते हुए जेल के अधिकारी तक पहुंच गया। उसने यह भी बताया कि इसने वह ऑडियों रिकार्डिग अपने मोबाईल फोन से डिलीट कर दी थी।

आरोपी द्वारा उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग किया गया मोबाईल फोन पुलिस टीम द्वारा आरोपी के कब्जा से बरामद किया गया है। आरोपी को आज अदालत के सम्मुख पेश किया जाएगा। मामले की जाँच जारी है।

इस मामले पर गुरुग्राम पुलिस आयुक्त के.के. राव ने कहा है कि ऐसे अपराधिक माहौल पैदा करने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा. उनके खिलाफ नियमानुसार तत्परता से सख्त कार्यवाही की जाएगी। इसके अतिरिक्त अपनी ड्यूटी में लापरवाही करने वाले किसी भी पुलिसकर्मी/अधिकारी को भी नही बख्शा जाएगा। उन्होंने बताया कि उपरोक्त मामले में भी थाना प्रबंधक बदशाहपुर को लाइन हाजिर किया गया है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: