हरियाणा में एक बार फिर लागू हो सकता है पूर्ण लॉक डाउन, कर्फ्यू लगाने पर भी सरकार कर रही है विचार

Font Size

चंडीगढ़। हरियाणा में कोरोनावायरस की बढ़ती रफ्तार पर अंकुश लगाने में नाकामयाब रही हरियाणा सरकार एक बार फिर प्रदेश में लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रही है। संभावना इस बात की प्रबल है कि 4 से अधिक जिलों में कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है जबकि दिल्ली से लगती सीमाओं को पूर्णतया कम से कम 2 सप्ताह के लिए सील भी किया जा सकता है। इस बात की संभावना प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज ने पत्रकारों से बातचीत में जताई है।

पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने स्पष्ट किया की प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर रोकथाम अपेक्षा के अनुरूप नहीं लग पाई है। इसलिए हरियाणा सरकार एक बार फिर पूर्ण लॉकडाउन करने के साथ-साथ अन्य कई विकल्पों पर गंभीरता से विचार कर रही है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने स्पष्ट किया कि उन विकल्पों में प्रदेश में पूर्ण लॉकडाउन लागू करना भी शामिल है जबकि कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है।

श्री विज ने कहा कि हम दूसरे प्रदेशों में लागू किए जा रहे साप्ताहिक लॉकडाउन और पूर्ण लॉकडाउन सहित अन्य प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार कर रहै है। प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति का पूरा आकलन करते हुए इस पर सख्त निर्णय लिया जाएगा। गृह मंत्री ने कहा कि दिल्ली से लगते 4 जिले खासतौर से गुरुग्राम, फरीदाबाद ,सोनीपत और झज्जर की सीमाओं को पूरी तरह सील करने का भी विकल्प विचारार्थ शामिल है जिससे प्रदेश के अन्य जिलों में वहां से संक्रमण फैलने की आशंका को रोका जा सकता है। उनका कहना है कि वर्तमान परिस्थिति में कुछ सख्त फैसले लेने की आवश्यकता महसूस की जा रही है और उनका विभाग उन सभी बिंदुओं पर विचार करेगा।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बिहार में पूर्ण लॉकडाउन 31 जुलाई तक लागू करने का ऐलान किया गया है जबकि कर्नाटक के बेंगलुरु सहित दूसरे अन्य प्रदेशों में भी इस प्रकार के फैसले लिए गए हैं वहां किये जा रहे प्रयोग का भी विश्लेषण करते हुए हरियाणा के मद में निर्णय लिया जाएगा। जब उनसे उत्तर प्रदेश में सप्ताह में 2 दिन लॉकडाउन लागू करने जैसे प्रयोग हरियाणा में करने का सवाल किया गया तो अनिल विज ने माना कि यह विकल्प भी उनके समक्ष है।

उन्होंने साफ किया कि गुरुग्राम फरीदाबाद झज्जर और सोनीपत जिले में अनलॉक वन और टू के दौरान जो छूट दी गई है उसे भी वापस लिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में पाए गए कोविड-19 संक्रमित कुल मरीजों में से 80% इन्हीं 4 जिले से हैं इसलिए सरकार की ओर से यहां कुछ सख्त फैसले लेने की आवश्यकता महसूस की जा रही है।

हरियाणा प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज के इस बयान से इस बात की संभावना प्रबल हो गई है कि हरियाणा में एक बार फिर लॉकडाउन लगाने जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है। यहां तक की दिल्ली से लगते 4 जिले में सभी सरकारी कार्यालय एवं औद्योगिक व व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की गतिविधियों पर भी प्रतिबंध लगाने जैसे निर्णय लिए जा सकते हैं। जाहिर है अगले दो से 3 दिनों में हरियाणा सरकार अपने फैसले का ऐलान कर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: