केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने हरियाणा को दी 20 हजार करोड़ की सड़क परियोजनाओं की सौगात

Font Size
  • गुरुग्राम को मिला 4 लेन वाले गुरुग्राम-पटौदी-रेवाड़ी हाईवे का तोहफा, लागत आएगी लगभग 1524 करोड़
  • दिसंबर 2022 तक बनकर होगा तैयार

  • गुरुग्राम 14 जुलाई। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज हरियाणा प्रदेश को लगभग 20 हजार करोड़ रूपए की सड़क परियोजनाओं की सौगात दी है। उन्होंने आज वीडियों काॅन्फें्रसिंग के माध्यम से प्रदेश में 11 सड़क परियोजनाओं का उद्घाटन तथा शिलान्यास किया। इसमें गुरूग्राम जिला को गुरूग्राम से पटौदी होते हुए रेवाड़ी तक बनाए जाने वाले चार मार्गीय हाईवे की सौगात मिली है जिस पर लगभग 1524 करोड़ रूप्ए की लागत आएगी।

  • गुरूग्राम से शुरू होकर पटौदी होते हुए रेवाड़ी तक बनने वाले इस हाईवे के निर्माण कार्य को दिसंबर 2022 तक पूरा किया जाएगा। यह राजमार्ग राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 352डब्ल्यू का हिस्सा है जिसकी लंबाई लगभग 46.11 किलोमीटर की है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) इस हाईवे का निर्माण करेगा जिसके रास्ते में 99 कलवर्ट, 12 छोटे पुल, एक छोटे वाहनो अथवा पैदल यात्रियों के लिए अंडरपास, वाहनो के 13 अंडरपास के अलावा, दो फलाईओवर तथा एक आरओबी आएंगे जिनका निर्माण भी इस परियोजना का हिस्सा है।

  • इन परियोजनाओं के शिलान्यास तथा उद्घाटन कार्यक्रम में एनएचएआई के चेयरमैन सुखबीर सिंह संधु ने बताया कि गुरूग्राम-पटौदी-रेवाड़ी-नारनौल से राजस्थान बोर्डर तक लगभग 132 किलोमीटर लंबाई के इस हाईवे पर लगभग 4500 करोड़ रूपए की लागत आएगी और जमीन अधीग्रहण की लगभग 2300 करोड़ रूप्ए की राशि किसानों को मिलेगी। कोरोना वायरस संक्रमण के इस दौर में इतनी राशि मिलने से इस क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों को बढावा मिलेगा। इसके अलावा, जिला महेंद्रगढ़ में बनने वाले लाॅजिस्टिक हब को भी इस हाईवे का लाभ मिलेगा।

  • हरियाणा प्रदेश को दी गई इन सड़क परियोजनाओं के लिए जहां मुख्यमंत्री मनोहर लाल तथा उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला ने श्री गडकरी का आभार जताया वहीं, केंद्रीय सांख्यिकी तथा कार्यक्रम कार्यन्वयन राजयमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राव इंद्रजीत सिंह ने आभार जताते हुए कुछ मांगे भी श्री गडकरी के समक्ष रख दी। उन्होंने मांग रखते हुए कहा कि दिल्ली-जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बिलासपुर चैक, कापड़ीवास चैक तथा बावल चैक पर फलाईओवर और मानेसर में ऐलीवेटिड हाईवे बनाने की आवश्यकता है।
  • इस पर श्री गडकरी ने यह कहते हुए आश्वासन दिया कि गुरूग्राम एक महत्वपूर्ण औद्योगिक शहर है और इसमें आईएमटी मानेसर में ऐलीवेटिड हाईवे की परियोजना पर काम चल रहा है जिसे जल्द ही सिरे चढाया जाएगा। राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि पिछले पांच वर्षों के दौरान सड़क इंफ्रास्ट्रक्चर सुधार का जितना काम देश में हुआ है उतना पहले कभी नहीं हुआ। इसका श्रेय श्री गडकरी को देते हुए उन्होंने कहा कि श्री गडकरी ने सड़क सुधारीकरण के कार्यों में कीर्तिमान स्थापित किया है। राव इंद्रजीत सिंह ने यह भी कहा कि आज जिन सड़क परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई है वे हरियाणा को समृद्ध बनाने के लिए मील का पत्थर साबित होंगी। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्यमंत्री जरनल वी के सिंह ने भी अपने संबोधन में गुरूग्राम-पटौदी-रेवाड़ी होते हुए राजस्थान बाॅर्डर तक बनने वाले इस हाईवे का उल्लेख किया और कहा कि इससे क्षेत्र में विकास को नई राह मिलेगी।

  • आज श्री गडकरी ने चार लेन रोहणा/हसनगढ से झज्जर सैक्शन, चार लेन पंजाब-हरियाणा बाॅर्डर से जींद सैक्शन तथा दो लेन जींद-करनाल हाईवे सहित तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया । इसके अलावा उन्होंने आठ अन्य सड़क परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी जिसमें 6 लेन एक्सेस कंट्रोल ग्रीन फील्ड इस्माईलाबाद से नारनौल सैक्शन, चार लेन गुरूग्राम-पटौदी-रेवाड़ी सैक्शन, चार लेन रेवाड़ी बाईपास, चार लेन रेवाड़ी-अटेली मण्डी सैक्शन, 6 लेन नारनौल बाईपास तथा अटेली मण्डी से नारनौल सैक्शन, चार लेन जींद-गोहाना मार्ग, चार लेन गोहाना-सोनीपत सैक्शन तथा चार लेन यूपी हरियाणा बाॅर्डर से रोहणा तक के सड़क मार्ग शामिल हैं। इन सभी परियोजनाओं की लागत लगभग 20 हजार 27 करोड़ रूप्ए है।

  • इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल, उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला, केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्यमंत्री जरनल (सेवानिवृत) वी के सिंह, कंेद्रीय सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह, कंेद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुज्जर व रतन लाल कटारिया के अलावा हरियाणा के कई सांसद तथा मंत्रीगण भी उपस्थित थे।
    000

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: