दुश्मनों के छक्के छुड़ा देने वाले भारतीय वायु सेना के युद्धक विमान आज दिल्ली के आकाश में क्यों करेंगे गर्जना ?

Font Size

सुभाष चंद्र चौधरी

नई दिल्ली। कोरोना योद्धाओं की सहायता से भारत कोरोना वायरस के खिलाफ सफलतापूर्वक लड़ाई कर रहा है। भारतीय वायु सेना (आईएएफ) अंतरराष्ट्रीय और घरेलू स्तर पर पुरुषों और सामग्री की आपूर्ति में सहायता देकर कोरोना की रोकथाम की दिशा में हो रहे देश के प्रयासों में योगदान कर रही है। 600 टन से ज्यादा चिकित्सा सामानों की आपूर्ति और चिकित्सकों, चिकित्सा सहायकों और कोविड परीक्षण प्रयोगशालाओं की स्थापना के लिए उपकरणों आदि को हवाई माध्यम से पहुंचाया गया है। आईएएफ कर्मचारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आगे भी योगदान करते रहेंगे।

भारत में सभी कोरोना योद्धाओं के प्रति आभार प्रकट करने के लिए आईएएफ अपनी सहायक सेवाओं के साथ भारत के इन बहादुर योद्धाओं को सलामी देने की योजना बना रही है। आईएएफ ऐसा अपने खास अंदाज में करेगी। बहादुर कोरोना योद्धाओं को सलामी देने के लिए भारतीय वायु सेना ने अपने विमानों का फ्लाई पास्ट (विमानों की परेड) करने की योजना बनाई है। ये ऐसे योद्धा हैं, जो कोरोना वायरस महमारी के इस अप्रत्याशित संकट के दौर में बिना थके और निःस्वार्थ भाव से काम कर रहे हैं।

भारतीय वायु सेना ने 3 मई, 2020 को दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में अपने कई विमानों के साथ फ्लाई पास्ट करने की योजना है। इस उड़ान गतिविधि में आईएएफ की प्रशिक्षण गतिविधि को शामिल किया गया है और इसमें ऐसे परिवहन विमान और हेलिकॉप्टर शामिल होंगे, जो कोविड-19 से संबंधित आपूर्ति में उपयोग किए जाते रहे हैं।

कोरोना योद्धाओं के लिए यह हवाई सलामी दिल्ली के आसमान पर सुबह 10-10.30 बजे के बीच देने की योजना है। लड़ाकू विमान संयोजन राजपथ और दिल्ली के ऊपर से उड़ान भरेगा, जिसे दिल्ली के नागरिक अपनी छत से देख सकेंगे। इस परेड में सुखोई-30 एमकेआई, मिग-29 और जगुआर जैसे विमान शामिल होंगे।

इसके अलावा, सी-130 परिवहन विमान भी लड़ाकू विमानों की तरह ही दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में प्रदर्शन करेंगे। अनुमानित रूप से विमान हवाई सुरक्षा विशेषकर पक्षियों से संबंधित गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए 500 मीटर से 1,000 मीटर की ऊंचाई तक उड़ान भरेंगे।

इसके अलावा हेलिकॉप्टरों के माध्यम से सुबह 9.00 बजे पुलिस युद्ध स्मारक और उसके बाद कोविड-19 के उपचार में लगे दिल्ली के अस्पतालों पर 10-10.30 बजे के बीच पुष्प वर्षा करने की योजना है। अस्पतालों की इस सूची में एम्स, दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, लोकनायक अस्पताल, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल, श्री गंगा राम अस्पताल, बाबा साहब अम्बेडकर अस्पताल, मैक्स अस्पताल, रोहिणी अस्पताल, अपोलो इंद्रप्रस्थ अस्पताल और आर्मी हॉस्पिटल रिसर्च एंड रेफरल शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: