मारपीट कर नगदी छीनने वाला दूसरा आरोपी भी गिरफ्तार

Font Size

गुरुग्राम। मारपीट कर नगदी छीनने की वारदात को अन्जाम देने के मामले में दूसरे आरोपी को भी अपराध शाखा सैक्टर—17 सी, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया वारदात में शामिल आरोपी के साथी को पुलिस टीम द्वारा पहले ही गिरफ्तार कर उसके कब्जा से प्रयोग की गई कार (मारुति रिट्ज) भी पुलिस टीम द्वारा पहले ही बरामद की जा चुकी है। आरोपी के कब्जा से पुलिस टीम ने 2 हजार रु भी बरामद किये।

मामले की खास बातें :

गुरुग्राम पुलिस के पी आर ओ सुभाष बोकन ने बताया कि 27 मई 2018 को थाना सैक्टर-14, गुरुग्राम में इन्द्रपाल पुत्र रतिपाल निवासी गाँव खोड तहसील अटेली थाना अटेली, जिला महेन्द्रगढ हाल निवासी मकान नं. 80, नितिन विहार सैक्टर-34 , गुरुग्राम ने हाजिर थाना आकर एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि दिनांक 27.05.2018 को करीब समय 3.00PM पर यह अपनी कार का रेडियेटर ठीक करवाने के लिये सैक्टर-12 आटो मार्केट माता रोङ गुरुग्राम नोसाद मिस्त्री की दुकान पर आया था। नोसाद मिस्त्री ने इसकी कार का रेडियेटर खोल कर चैक कर रहा था। उसी समय नोसाद मिस्त्री के पास 2 नौजवान लङके आए और वो नोसाद मिस्त्री से कहने लगे कि आप पहले हमारी कार का रेडियेटर ठीक कर दो। मिस्त्री ने कहा पहले इस कार का काम पूरा करता हुँ उसके बाद आपकी गाङी का काम पूरा करुगाँ। वह दोनो लङके इसके पास आकर बैठ गए और इसका नाम पता पूछने लगे। थोङी देर बाद नोसाद मिस्त्री ने इसकी गाङी का काम पूरा कर दिया और इसने अपनी जेब से मिस्त्री की लेबर दे दी। उसी समय उनमें से एक लङका इसकी कार में आकर बैठ गया कार में बैठने का कारण पूछा तो उसने कहा कि मुझे बस स्टैण्ड तक छोङ दो तो इसने उससे यह कहते हुए मना कर दिया कि इसे अभी कार का और काम भी कराना है। तभी वह लङका बोला कि आपकी कार के FINANCE की किस्त बकाया है। इसने कहा कि इसकी कार कि कोई किस्त बकाया नही है। आप चैक करवा सकते हो। तभी उस लङके ने अपने मोबाईल से पता नही किसे फोन करके यह कहा कि इस नम्बर कि गाङी कि FINANCE STATEMENT चैक करके बताओ। वह लङका करीब 10 मिन्ट इसकी कार मे बैठा रहा। उसके बाद में 15,000/- रुपये कार का इँजन का काम करवाने के लिये रखे हुये थे जो उन दोनो लङकों ने इसके साथ झगङा करके थप्पङ-मुक्का छीन लिए और अपनी कार में सवार होकर वहां से भाग गए।

▪थाना में उक्त शिकायत प्राप्त होने पर कानून की उचित धाराओँ के तहत अभियोग अंकित किया गया था।

▪ इस अभियोग में कार्यवाही करते हुए अपराध शाखा सैक्टर-17 सी, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिस प्रणाली का प्रयोग करते हुए व अपने अथक प्रयासों से उक्त अभियोग में मारपीट करके नगदी छीनने की वारदात को अन्जाम देने वाले 01 आरोपी दिनेश लाम्बा पुत्र रणधीर सिंह निवासी गाँव माधोगढ थाना-सतनाली जिला महेन्द्रगढ, उम्र 25 वर्ष को 24.07.2019 को अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया था। जिसे दिनांक 24.07.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 02 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया था।

▪️पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान अपराध शाखा सैक्टर-17C, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने आगामी कार्यवाही करते हुए गिरफ्तार किए गए आरोपी से पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपी व उसके अन्य साथी द्वारा वारदात में प्रयोग की गई 01 कार (मारुति रिट्स) आरोपी की निशानदेही पर आरोपी के कब्जा से बरामद की गई थी।

👁️‍🗨️ उपरोक्त अभियोग में अपराध शाखा सैक्टर-17C, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने आगामी कार्यवाही करते हुए अपनी समझबूझ व अपने अथक प्रयासों से उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में शामिल उपरोक्त आरोपी के दूसरे साथी को दिनाँक 10.04.2020 को गाँव माधोगढ़, जिला महेन्द्रगढ़ से काबू करने सफलता हासिल की थी। आरोपी की पहचान विकास उर्फ भोली पुत्र ईश्वर सिंह निवासी गांव माधोगढ़, थाना सतनाली, जिला महेन्द्रगढ़, उम्र 28 वर्ष के रूप में हुई थी।

👁️‍🗨️ उक्त आरोपी विकास ने पुलिस पूछताछ में अपने उपरोक्त साथी के साथ मिलकर उपरोक्त अभियोग में शिकायकर्ता/पीड़ित के साथ मारपीट करके उसासे नगदी छीनकर कार में बैठकर भाग जाने की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया है।

👁️‍🗨️ पुलिस टीम द्वारा उक्त आरोपी के कब्जा से 02 हजार रुपयों की नगदी बरामद की गई है।

👁️‍🗨️ आरोपी को दिनाँक 11.04.2020 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: