प्रवासी मजदूरों के लिए 19 सामुदायिक केंद्रों में बनाए गए राहत शिविर

Font Size
– सामुदायिक केंद्रों में रहने, खाने, पेयजल, सफाई और स्वास्थ्य सुविधाओं की है व्यवस्था 
गुरुग्राम, 29 मार्च। कोरोना माहमारी के चलते पूरे देश में लागू लॉकडाउन में बेघरों, प्रवाशी मजदूरों तथा जरूरतमंद लोगों के लिए गुरुग्राम जिला प्रशासन द्वारा विशेष व्यवस्था की गई है।
इसके तहत नगर निगम गुरुग्राम के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित 19 सामुदायिक केंद्रों को राहत शिविरों में बदला गया है। इन राहत शिविरों में भोजन, रहने, पेयजल, सफाई और स्वास्थ्य सुविधाओं की उचित व्यवस्था की गई है। कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति अपने नजदीकी राहत केन्द्र में आश्रय ले सकता है। नगर निगम गुरुग्राम, जिला प्रशासन, एचएसवीपी तथा अन्य विभाग सयुंक्त रूप से इस विपदा की घड़ी में एक साथ मिलकर काम कर रहे हैं।
इन स्थानों पर बने हैं राहत केन्द्र : 
1 सामुदायिक केंद्र कार्टरपूरी
2 सामुदायिक केंद्र डूंडाहेड़ा
3 सामुदायिक केंद्र सरहौल
4 सामुदायिक केंद्र सुखराली
5 सामुदायिक केंद्र बसई
6 सामुदायिक केंद्र धनवापुर
7 सामुदायिक केंद्र गाडौली कलां
8 हरिजन चौपाल कादीपुर
9 सामुदायिक केंद्र सेक्टर-15 पार्ट 2
10 सामुदायिक केंद्र सेक्टर-15 पार्ट 1
11 सामुदायिक केंद्र सेक्टर-10ए
12 सामुदायिक केंद्र सेक्टर-31
13 सामुदायिक केंद्र खेड़की दौला
14 सामुदायिक केंद्र बादशाहपुर
15 सामुदायिक केंद्र इस्लामपुर
16 सामुदायिक केंद्र सेक्टर-38
17 सामुदायिक केंद्र कन्हैई
18 सामुदायिक केंद्र सेक्टर 43
19 सामुदायिक केंद्र चकरपुर
नगर निगम गुरुग्राम के आयुक्त विनय प्रताप सिंह ने नागरिकों से आह्वान किया है कि वे इन राहत केंद्रों में आश्रय लें। यहां पर रहने, खाने, पेयजल, सफाई तथा स्वास्थ्य सेवाओं की उचित व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा 50 हजार से भी अधिक फ़ूड पैकेट एक समय में वितरित किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: