सेक्टर 10 में किरयाना दुकान से नगदी भरे बैग लूटने वाले 4 अपराधी गिरफ्तार

Font Size

गुरुग्राम। किरयाना दुकान के मालिक के साथ हथियार के बल पर नगदी से भरे बैग की डकैती करने की वारदात को अन्जाम देने वाले 04 आरोपियों को अपराध शाखा सैक्टर-10, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस के अनुसार आरोपियों ने पीङित की दुकान की पहले रैकी की और सही अवसर पाकर डकैती की वारदात को अन्जाम दिया।

आरोपियों द्वारा वारदात में प्रयोग किए गए 02 देशी कट्टे व 02 जिन्दा कारतूस भी पुलिस टीम ने आरोपियों के कब्जा से बरामद किए है।

मामले का 1 आरोपी पुलिस टीम द्वारा पहले ही घटनास्थल से गिरफ्तार किया जा चुका है । घटनास्थल से वारदात में प्रयोग की गई 02 मोटरसाईकिलें, 01 देशी कट्टा व 02 जिन्दा कारतूस भी पहले बरामद किए गए थे।

मामले की खास बातें :

गुरुग्राम के एसीपी क्राइम ने आज प्रेसवार्ता में जानकारी की गत 9 फवारी को थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम में कन्ट्रोल रुम, गुरुग्राम से फोन के माध्यम से एक सूचना अवैध हथियारो के बल पर कोठी नं. 287 सैक्टर-10ए, गुरुग्राम में लूट होने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई।

▪इस सूचना पर थाना सैक्टर-10, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी के घटनास्थल पर पहुंच गई जहां पर एक किरयाने की दुकान के मालिक से नगदी की हथियार के बल पर डकैती होना पाया, पुलिस टीम को घटनास्थल से ही आरोपियों द्वारा वारदात में प्रयोग की गई 02 मोटरसाईकिलें, 01 देशी कट्टा व 02 जिन्दा कारतूस मिलें। जिन्हें नियमानुसार पुलिस कब्जा में लिया गया। इस वारदात को अन्जाम देने में शामिल एक आरोपी देवानन्द उर्फ देवा जिला कासगन्ज, उत्तर-प्रदेश को भी पुलिस टीम द्वारा काबू किया गया था।

▪घटनास्थल पर पीङित प्रविन कुमार पुत्र श्री धर्मबीर गुप्ता निवासी मकान नं. 287 सैक्टर-10A, गुरुग्राम ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि इनकी रोहताश कुमार, प्रविन कुमार के नाम से शिवाजी पार्क गली नं. 3 खांडसा मंडी के सामने थोक किरयाना दुकान है। दिनांक 09.02.2020 को समय करीब 9.00 PM पर ये अपने परिवार के सदस्यों के साथ दुकान बंद करके घर आ रहा था। इसके पास उस दिन के और पिछले उधार के पैसे करीब 25 से 30 LAC रुपये एक थैले में थे। इसकी दुकान की बही खाते तथा व चैक के सारे कागज उसी थैले में थे। यह स्कुटी नं. HR 26 CG 2819 पर बैठकर दुकान से घर आ रहा था। इसके आगे इसका भतीजा प्रदीप अलग मोटरसाईकिल पर था तथा इसके पीछे इसका बडा भाई रोहताश कुमार अलग स्कूटी पर था जब यह कोठी नं. 186 के सामने पहुंचा तो एक मोटरसाईकिल नं. UP 16AQ -6714 पल्सर जिस पर दो लडके बैठे थे, इसकी स्कूटी के सामने लगा दी पीछे से एक होन्डा साइन मोटरसाईकिल UP 24J -2150 जिस पर दो लडके बैठे थे ने मोटरसाईकिल इसकी स्कुटी के पीछे लगा दी तथा एक और मोटरसाईकिल जिस पर 2 लडके बैठे थे आए तथा सभी ने उतरकर इससे कहा की पैसे वाला बैग दो तो इसने खाने वाला बैग दे दिया। उन्होने फिर कहा कि पैसे वाला बैग दो तो इसने नही दिया फिर उन्होने अपनी अपनी जेब से पिस्तोल निकालकर इसके सिर पर बट मारे तो इसने जोर-जोर से चोर-चोर की आवाज लगाई तो पीछे से इसका भाई रोहताश व आगे से मेरा भतीजा प्रदीप भागकर आए तथा आस-पास के व्यक्ति भी आ गए। इसका भाई रोहताश इसे छूडाने लगा तो इसके भाई के सिर पर भी उन्होनें पिस्तौल के बट मारे और उन्होनें पिस्तौल चलानी चाही तो उनकी पिस्तौल से जिन्दा कारतूस गिर गया। डर के मारे ये पीछे हट गये तथा पैसे वाला बैग स्कूटी से छीनकर वो लोग भाग गए।

▪इस शिकायत पर थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪इस अभियोग में अपराध शाखा सैक्टर-10ए, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से व अपनी समझबुझ से उक्त अभियोग की वारदात की योजना व वारदात को अन्जाम देने वाले निम्नलिखित 04 आरोपियों को कल दिनांक 17.02.2020 को खाण्डसा चौक, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की हैः-

1. अंकित सक्सेना पुत्र रमेश चन्द सक्सेना निवासी मोहल्ला मोहन गली कायस्थान, थाना कासगन्ज, उत्तर-प्रदेश हाल निवासी मकान नं. 37, नजदीक रोकफोर्ड स्कूल, गली नं. 3, शक्ति पार्क, गुरुग्राम।

2. भीम प्रकाश उर्फ अन्नु पुत्र ओमप्रकाश निवासी गाँव अहरौली, नजदीक रेलवे स्टेशन, थाना कासगन्ज, उत्तर-प्रदेश हाल निवासी विनय नगर पार्ट-3, फरीदाबाद।

3. नाजीर पुत्र नासीर निवासी गन्ज शहीदा, मौहल्ला कास्बा उज्जानी, जिला बदायू, उत्तर-प्रदेश।

4. संजीव सक्सेना पुत्र रमेश चन्द सक्सेना निवासी मोहल्ला मोहन गली कायस्थान, थाना कासगन्ज, उत्तर-प्रदेश हाल निवासी मकान नं. 37, नजदीक रोकफोर्ड स्कूल, गली नं. 3, शक्ति पार्क, गुरुग्राम।

▪आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪पुलिस पूछताछ में उपरोक्त आरोपियों से ज्ञात हुआ कि उक्त आरोपी अंकित सक्सेना सब्जी खरीदकर बेचने का काम करता है और यह जानता था कि उक्त अभियोग में शिकायतकर्ता की दुकान पर बहुत नगदी का लेनदेन होता है तो इसने अपने उक्त साथियों के साथ मिलकर उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता/पीङित के आने जाने का समय व रास्ते की रैकी की व वारदात को दिन ये लोग उसकी दुकान के पास कई बार भी गए। योजनानुसार उपरोक्त आरोपियों ने हथियार के बल पर उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता के साथ मारपीट की व डकैती करते हुए नगदी से भरा हुआ बैग लेकर भाग गए।

▪आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग किए गए 02 देशी कट्टे, 02 जिन्दा कारतूस बरामद किए गए है। पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जा से धारा 102 सी.आर.पी.सी. के तहत 01 मोटरसाईकिल भी बरामद की गई है।

▪आरोपियों से पुलिस पूछताछ में यह भी ज्ञात हुआ कि ये पहले इस प्रकार की वारदातों को उत्तर-प्रदेश में अन्जाम दे चुके है व कई बार जेल भी जा चुके है।

▪आरोपियों को आज दिनांक 18.02.2020 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा।

▪पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान उक्त आरोपियों से अन्य साथी आरोपियों, अन्य वारदातों के बारे में व उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग किए गए हथियारों के बारे में गहनता से पूछताछ करते हुए उपरोक्त अभियोग में डकैती की गई नगदी को बरामद की जाएगी। आरोपियों से पूछताछ जारी है। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: