देश का 15 वां ऑटो एक्सपो शुरू : एक्सपो की थीम इलेक्ट्रिक मोबिलिटी

Font Size

सुभाष चन्द्र चौधरी

ग्रेटर नोएडा : देश का 15 वां ऑटो एक्सपो गुरुवार को ग्रेटर नोएडा स्थित ऑटो मार्ट में शुरू हो गया. हालाँकि इसका आरम्भ तो  सुबह से ही हो गया था लेकिन उद्घाटन समारोह की औपचारिकता गुरुवार शाम को तब की गयी जब केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ऑटो एक्सपो में पहुंचे. इस ऑटो एक्सपो की चर्चा जिस जोर शोर के साथ हो रही थी पहले दिन वैसा जलवा देखने को नहीं मिला क्योंकि एक तरफ मंदी की मार तो दूसरी तरफ चीन के कोरोना वायरस का असर यहाँ आने वालों के चेहरे पर साफ दिखा. दूसरी तरफ दर्शकों को इस बात से निराशा हाथ लग सकती है कि देश व दुनिया की कई नामचीन कंपनियां इस बार ऑटो एक्सपो में शामिल नहीं हैं जबकि चीन की कई नई कंपनियां दमदार तरीके से अपने कई मॉडल्स के साथ मौजूद हैं. इस बार एक्सपो की थीम इलेक्ट्रिक मोबिलिटी है इसलिए अधिकतर कम्पनियाँ अपने इलेक्ट्रिकल मॉडल्स के साथ पहुंची हैं.

ऑटो एक्सपो में केंद्रीय मंत्री श्री गडकरी के अलावा मारुती के एमडी केनिची आयुकावा, जेबीएम ग्रुप के सीईओ ऑपरेशन,ऑटोमोटिव कॉम्पोनेन्ट मैन्युफैक्चररस एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के डायरेक्टर जनरल विनी मेहता सहित कई प्रमुख उद्योगपति एवं बड़ी कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारी बड़ी संख्या में मौजूद थे.

केवल कार निर्माता ही नहीं बल्कि कई टू-व्हीलर कंपनियां भी ऑटो एक्सपो से नदारद हैं. एक्सपर्ट मानते हैं कि इसका कारन ऊंची लागत और कमजोर मांग है. होंडा, बीएमडब्लू, होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया, टीवीएस मोटर जैसी भारतीय उपभोक्ताओं पर ख़ासा पकड रखने वाली वाहन कम्पनियाँ ने इसमें शामिल होने से परहेज किया है. बात की जाय लक्जरी ब्रांड टोयोटा, जीप, लैंबरगिनी, पोर्श और वॉल्वो भी इसका हिस्सा नहीं बनी हैं. बड़े वाहनों की प्रमुख कंपनी अशोक लीलैंड भी इस बार एक्सपो में नहीं है.

कार उपभोक्ताओं के लिए यह अच्छी खबर है कि एक्सपो के पहले दिन कई गाड़ियां और बाइक लॉन्च हुई। एक्सपो 2020 में हुंडई की एसयूवी क्रेटा को लॉन्च किया गया। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने इसका पर्दा उठाया और कहा कि मुझे इसे ड्राइव करना बेहद पसंद है। खान ने खुद को ‘फादर ऑफ हुंडई’ बताया.

कंपनी प्रबंधन का कहना है कि नई Hyundai Creta जो चीन में ix25 नाम से बेचीं जाती है का पिछले साल चीन में सेकंड-जेनरेशन पेश किया गया था। भारत में भी इसका सेंकड-जेनरेशन भी इसी पर आधारित होगा। इसे किआ की 1.4 टर्बो लीटर इंजन वाली सेल्टोस की टक्कर में उतारा गया है। दूसरी कोरियन कंपनी किआ को लेकर दर्शकों में सबसे ज्यादा उत्साह है। भारतीय बाजार के हिसाब से इस मॉडल को मार्च में लॉन्च किया जाएगा। दूसरी तरफ चीन की सबसे बड़ी एसयूवी कंपनी ग्रेट वॉल मोटर्स अपने हैवल क्रॉसओवर्स और कई इलेक्ट्र‍िक ब्रांड लेकर शामिल हुई है. कंपनी ने इलेक्ट्रिक कार ओरा आर-1 को भी उपभोक्ताओं के दर्शन के लिए रखा है। कंपनी का दावा है कि यह दुनिया की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार है।

बड़े वाहनों में जेबीएम जो इलेक्ट्रिकल बस का उत्पादन करती है पूरे तामझाम के साथ यहाँ मौजूद है. कंपनी ने इलेक्ट्रिकल बसों के 9 मीटर और 12 मीटर वाले मॉडल्स का यहाँ प्रदर्शन किया है. उत्तर प्रदेश के नोएडा और हरियाणा के गुरुग्राम में सिटी बस सेवा में अपनी सीएनजी बसों से मजबूत पहचान बना चुकी जेबीएम अब शीघ्र ही दिल्ली में दो सौ इलेक्ट्रिकल बसें उपलब्ध करवाने की तैयारी में है जबकि गुरुग्राम में भी अब इलेक्ट्रिकल बसों की डिमांड को झटकने के प्रयास में है. सम्बंधित राज्य की आवश्यकताओं के अनुरूप अपने वाहनों के मॉडल्स में रूपांतरण करने में लचीला रुख रखने वाली जेबीएम ग्रुप ने इसके अलावा गुजरात सहित अन्य राज्यों में भी इलेक्ट्रिकल बसों की आवश्यकताओं को टटोलना शुरू कर दिया है.

भारतीय कंपनियों में टाटा मोटर्स और महिंद्रा एंड महिंद्रा ने कई नए मॉडल उतारे हैं. टाटा मोटर्स ने सिएर ईवी कॉन्सेप्ट कार को प्रदर्शित किया है. महिंद्रा की ओर से यहाँ ई के यू वी 100 कार का प्रदर्शन गया किया है.

सबसे पुराने वाहन निर्माता कंपनी टाटा ने अपनी सबसे पुरानी और दमदार एसयूवी सफारी को अपग्रेड कर प्रदर्शित किया है। इसे हेक्सा सफारी एडिशन कहा गया है। नई कार हेरियर भी है जो पांच लोगों के लिए एक कॉम्पेक्ट एसयूवी है। कंपनी को इस कार से बहुत उम्मीद हैं। कंपनी ने सात लोगों के लिए ग्रेविटास भी लांच की है।

महिंद्रा एक्सयूवी-500, टीयूवी-300 और मराजो सात सीटों के साथ यहाँ देखने को उपलब्ध हैं। केयूवी-100 कॉम्पेक्ट एसयूवी पांच सीटों वाली हैं। मारूति ने यहाँ कॉम्पेक्ट एसयूवी श्रेणी में विटारा ब्रेजा को सामने रखा है जिसे गुरुवार को पेट्रोल इंजन के साथ लांच किया गया है।

एमजी कंपनी ने भी अपने इलेक्ट्रिकल मॉडल्स प्रदर्शित किये हैं जिसका लोगों में आकर्षण देखने को मिला.

ऑटो एक्सपो में शामिल होने वाले एग्जिबिटर्स की कुल संख्या 90 है जिनमें करीब एक दर्जन स्टार्टअप भी शामिल हैं. ऑटो एक्सपो 8 फरवरी को आम उपभोक्ताओं के लिए खुलेगा. अगले दो दिनों में इस बात का अंदाजा लग सकेगा कि इस बार कितनी कम्पनियाँ अपने नए मॉडल्स मार्किट में लांच करती है क्योंकि ग्रेटर नोएडा में आयोजित इस ऑटो एक्सपो 2020 की थीम इलेक्ट्रिक मोबिलिटी है. जाहिर है इस बार इलेक्ट्र‍िक वाहन के अधिक संख्या में लॉन्च होने की संभावना है. पिछला रिकॉर्ड बताता है कि इस अवसर पर कुल अलग अलग कंपनियों द्वारा 80 गाड़ियाँ लॉन्च की गईं थी हुई थीं. दूसरी तरफ ऑटो एक्सपो की सफलता यहाँ आने वाले दर्शकों की संख्या पर भी निर्भर करता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: