गुरुग्राम में सरकारी सेवा तंत्र को और दक्ष व सुविधाजनक बनाया जाएगा : अमित खत्री

Font Size

वर्ष 2020 में सुशासन पर दिया जाएगा बल

अवैध कालोनियों की जमीन रजिस्ट्री रोकने की सॉफ्टवेयर में ही होगी व्यवस्था

एन ओ सी जारी करना और सरल करने की कोशिश

गुरूग्राम, 22 जनवरी। उपायुक्त अमित खत्री ने आज कहा कि राज्य सरकार द्वारा वर्ष-2020 को सुशासन संकल्प वर्ष घोषित किया गया है। इसे गुरूग्राम जिला में धरातल पर मूर्त रूप देने के लिए जहां एक ओर जिला के सरकारी कार्यालयों में मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाने पर ध्यान दिया जाएगा, वहीं दूसरी ओर तहसील कार्यालयों तथा अंतोदय सरल केंद्रों के कार्यों की पाक्षिक आधार पर समीक्षा की जाएगी।


श्री खत्री आज अपने कार्यालय में मासिक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष-2020 को सुशासन संकल्प वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। जिला प्रशासन का प्रयास है कि लोगों को दी जाने वाली सुविधाओं को उन तक आसानी व समयबद्ध तरीके से पहुंचाया जाए। इसके साथ ही तहसीलों व ई-दिशा केन्द्रों के माध्यम से लोगों को मिलने वाली मूलभूत सुविधाओं जैसे स्वच्छता, शौचालयों, बिजली व्यवस्था तथा टोकन व्यवस्था आदि को भी पहले से और बेहतर करने की दिशा में प्रयास किए जा रहे हैं। इन सभी सुविधाओं को लेकर जिला प्रशासन द्वारा समय समय पर समीक्षा बैठकें भी की जाएंगी ताकि सभी सरकारी कार्यालयों , तहसीलों, ई-दिशा केन्द्रों तथा उप मंडलों पर आमजन को किसी प्रकार की असुविधा ना हो और लोगों को वहां अच्छा वातावरण मिले।
एक सवाल के जवाब में उपायुक्त ने बताया कि जिला में अवैध काॅलोनी काटने को रोकने के लिए प्रशासन सख्त कदम उठाएगा। जिन स्थानों पर प्लाॅट या जमीन खरीदने के लिए अनापत्ति पत्र (एनओसी) की अनिवार्यता है ,उसके लिए हैलरिस साॅफटवेयर में ही ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि उसकी रजिस्ट्री के लिए कम्प्यूटर स्वीकार ही नही करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि एनओसी देने के कार्य का भी सरलीकरण किया जाएगा और इसके लिए कोशिश होगी कि एनओसी देने के कार्य में मानव हस्तक्षेप ना हो। इसमें रजिस्ट्री करवाने वाले लोगों को सैल डीड की प्रति समय पर मिले, इस पर भी ध्यान दिया जाएगा।


उन्होंने यह भी बताया कि इस बार गणतंत्र दिवस का जिला में थीम ‘ प्लांट हैल्थ‘ रखा गया है जिसमें जन जीवन में जैविक विविधताओं को किस प्रकार संजोकर रखा जाए और विकास के साथ साथ पर्यावरण का किस प्रकार सतत विकास किया जा सकता है, पर ध्यान केन्द्रित किया जाएगा। इस बार जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में विद्यार्थियों द्वारा इस विषय पर आधारित कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे। इस अवसर पर सीएसआर क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाले लोगों को भी सम्मानित किया जाएगा।


जिला प्रशासन द्वारा हाल ही में अंगदान को लेकर शुरू की गई मुहिम पर बोलते हुए उपायुक्त ने कहा कि जल्द ही जिला प्रशासन द्वारा जल्द ही कलैण्डर आॅफ इवेंट लांच किया जाएगा जिसके तहत अंगदान के लिए लोगों को प्रेरित करते हुए गतिविधियों की रूपरेखा तैयार की जाएगी। उन्होंने कहा कि देश और दुनिया से हजारों लोग अपना इलाज करवाने के लिए गुरूग्राम जिला आते हैं, लेकिन जब अंगदान की बात आती है तो उसमें हम अन्य देशों की तुलना में काफी पीछे हैं। इस दिशा में लोगों को प्रेरित करने के लिए इस पहल को जन जन तक पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा।


स्मार्ट ग्राम परियोजना पर बोलते हुए उपायुक्त ने कहा कि इस परियोजना के तहत पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की प्रणव फाउंडेशन के सहयोग से जिला के कई गांवो का कायाकल्प किया गया है और जल्द ही जिला के कई अन्य गांवो को भी अडोप्ट कर वहां विकास कार्य करवाएं जाएंगे। इस बारे में फरवरी माह में उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की जानी प्रस्तावित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: