राष्ट्रीय लोक अदालत में 3726 विवाद निपटाए गए

Font Size

-राष्ट्रीय लोक अदालत में समाधान के लिए 6130 मामले रखे गये

-लोक अदालत में 146338573 रूपये की हुई सैटलमेंट : सीजेएम प्रदीप चौधरी

-जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा शनिवार को लगाई गई राष्ट्रीय लोक अदालत

गुरूग्राम 14 दिसम्बर। राष्ट्रीय विधिक सेवाएं प्राधिकरण के निर्देशानुसार आज जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। इसमें विभिन्न प्रकार के 6130 मामले समाधान के लिए रखे गये, जिनमें से 3726 मामलों का निपटारा किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत में विभिन्न मामलों में 146338573 रूपये की राषि का सैटलमेंट किया गया। यह जानकारी जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के सचिव एवं मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी प्रदीप चौधरी ने दी।

मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी के अनुसार जिला मुख्यालय पर इस राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिकाधिक विवादों का निपटारा करने के लिए गुरुग्राम जिला के सभी न्यायालयों में लोक अदालत लगाई गई। मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी प्रदीप चौधरी ने बताया कि इस लोक अदालत में प्रीलिटिगेशन के छोटे- मोटे ऐसे विवाद जो अभी तक कोर्टों में नहीं आये है, ऐसे विभिन्न प्रकार के 857 विवाद समाधान के लिए रखे गये जिनमें से 802 मामलों को आपसी सहमति से सुलझा लिया गया और इन मामलों में 86 लाख 14 हजार 508 रूपये की सैटलमेंट राषि से समझौता हुआ ।

उन्होंने बताया कि, क्रिमीनल कंपाउडेबल आॅफेंस के 439 मामलों में 1 लाख 4 हजार 200 रूप्ये, श्रम संबंधी 29 मामलों में 3 लाख 59 हजार 618 रूप्ये, वाहन दुर्घटना अधिनियम के 145 मामलों में 2 करोड़ 61 लाख 95 हजार रूपये की सैटलमेंट राशि प्राप्त हुई।

मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी ने बताया कि लोक अदालतों में लोगों को सस्ता व शीघ्र न्याय मिल जाता है। लोक अदालत में लिये गये फैसले में न किसी की जीत होती न किसी की हार। दोनों पक्षों की रजामंदी से फैसला लिया जाता है। इस कारण लोक अदालतें लोगों के समय और धन की बचत करने की दिशा में कारगर साबित हो रही है। इसके साथ- साथ समाज में भाईचारे की भावना को भी बढ़ावा मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: