” देश में शत्रु संपत्तियों की कुल कीमत 1.04 लाख करोड़”

Font Size

नई दिल्ली: देश भर में शत्रु संपत्तियों की कुल कीमत 1.04 लाख करोड़ रुपए आंकी गई है. केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहिर ने मंगलवार को लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित जवाब में यह जानकारी दी.
श्री अहिर ने कहा कि इनमें अचल संपत्तियों की संख्या 9280 है. यह 11773 एकड़ क्षेत्रफल में स्थित है. उन्होंने स्पष्ट किया कि शत्रु संपत्ति की श्रेणी में ऐसी संपत्ति आती हैं जिनका ताल्लुक 1960 के दशक में भारत के चीन और पाकिस्तान के साथ युद्ध के बाद पाकिस्तान एवं चीन जा बसे लोगों से हो और इनकी देखरेख शत्रुदेश में जा बसे नागरिकों या फर्म की ओर से कोई अन्य व्यक्ति भारत में रहते हुये कर रहा हो.
शत्रु संपत्ति की पहचान और इनकी देखरेख के लिए शत्रु संपत्ति अधिनियम 1968 में प्रावधान निर्धारित किये गये हैं। इस कानून में शत्रु संपत्ति की देखरेख करने वालों के अधिकार और दायित्व भी परिभाषित हैं. हाल ही में शत्रु संपत्ति अधिनियम में संसद से संशोधन पारित कर ऐसी संपत्तियों के उत्तराधिकार और हस्तांतरण संबंधी प्रावधानों में बदलाव किया गया है.

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: