गैंगस्टर की अवैध इमारत पर चला मनोहर सरकार का बुलडोज़र

Font Size

– गुरुग्राम में अवैध रूप से कंट्रोल्ड एरिया में कृषि भूमि पर बनी गैंगस्टर की कोठी की गई जमींदोज

– नगर निगम मानेसर ने भारी पुलिस बल के साथ दिया कार्रवाई को अंजाम

गुरुग्राम, 23 सितंबर। गुरुग्राम जिला के गांव बार गुर्जर में अवैध रूप से कंट्रोल्ड एरिया में कृषि भूमि पर बनी गैंगस्टर सुबे गुर्जर की कोठी को नगर निगम मानेसर ने भारी पुलिस बल की मदद से जमींदोज कर दिया है। यह कोठी लगभग पौने एकड़ एरिया में बनी हुई थी। गैंगस्टर सुबे गुर्जर पर 42 आपराधिक मामले दर्ज हैं और वह फिलहाल भोंडसी जेल में बंद है।

इस अवैध चार मंज़िला कोठी को गिराने के लिए नगर निगम मानेसर व पुलिस का अमला वीरवार को निगम आयुक्त मोहम्मद इमरान रजा के नेतृत्व में पहुँच गया था । पुलिस बल का नेतृत्व एसीपी मानेसर सुरेश कुमार कर रहे थे। उस समय अमला दो जेसीबी लेकर गया था परंतु इतनी बड़ी कोठी को जेसीबी से गिराना कठिन था , इसलिए पहले दिन चार दिवारी तोड़ कर अमला वापिस चला आया और रात भर संसाधन इकट्ठे कर सुबह पुनः कार्रवाई शुरू की। क़रीब 7 घंटे की मशक़्क़त के बाद कोठी को धराशायी किया गया है।

मानेसर नगर निगम में नियुक्त डीटीपी संजय कुमार के अनुसार गैंगस्टर सुबे गुर्जर ने अवैध रूप से नियंत्रित क्षेत्र में कृषि भूमि पर लगभग पौने एकड़ क्षेत्रफल में कोठी बनाई हुई थी। यह मामला जब नगर निगम मानेसर के अधिकारियों के संज्ञान में आया तो संयुक्त आयुक्त के माध्यम से कोठी के मालिक गैंगस्टर सुबे गुर्जर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। जब उसकी ओर से संतोषजनक जवाब नहीं आया तो इस कोठी को गिराने का निर्णय लिया गया।

उन्होंने बताया कि नगर निगम मानेसर के अमले ने लगभग 100 पुलिसकर्मियों के बल के साथ, जिसमें महिला तथा पुरुष पुलिसकर्मी दोनों शामिल थे, कोठी को गिराने का कार्य वीरवार को शुरू किया। पोर्कलेन मशीन अर्थात बुलडोजर की मदद से बारिश के बावजूद 2 दिन में इस कोठी को जमींदोज कर दिया गया है।उन्होंने बताया कि इस दौरान गैंगस्टर सूबे गुर्जर के परिवार की कुछ महिलाओं ने विरोध भी किया लेकिन पुलिस बल की मदद से कार्रवाई को अंजाम तक पहुंचाया गया है।

गांव बार गुर्जर के राजस्व इलाके में अरावली पहाड़ियों के साथ बनी गैंगस्टर की यह अवैध कोठी देखते ही देखते ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और धराशायी हो गई।

डीटीपी संजय कुमार ने कहा कि अवैध रूप से बने हुए मकान चाहे किसी की भी हों उनके ख़िलाफ़ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी और उन्हें हटाया जाएगा।

Leave a Reply

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: