महाराष्ट्र में तोड़फोड़ की सियासत फिर तेज : इस बार भाजपा के निशाने पर कांग्रेस

Font Size

मुंबई :  महाराष्ट्र में कांग्रेस नेता  व पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने कल वर्ली में सीएम एकनाथ शिंदे के ओएसडी आशीष कुलकर्णी के आवास पर डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद से सियासी गलियारों में अटकलें लगाई जा रही हैं कि अशोक चव्हाण बीजेपी ज्वॉइन कर सकते हैं.

आशीष कुलकर्णी ने महाराष्ट्र में राज्यसभा और एमएलसी चुनावों के दौरान एक रणनीतिकार के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. उनका एक दशक पहले शिवसेना सुप्रीमो बाल ठाकरे और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ एक संक्षिप्त कार्यकाल था. उन्होंने महाराष्ट्र BJP में प्रदेश उपाध्यक्ष के रूप में शामिल होने से पहले शिवसेना और कांग्रेस के साथ मिलकर काम किया है.

हालांकि अशोक चव्हाण ने मिडिया से बातचीत में यह स्पष्ट किया कि वह जल्द ही दिल्ली में कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो’ रैली में भाग लेंगे. उनके बीजेपी में शामिल होने की सभी अटकलें निराधार हैं. उन्होंने बताया कि वो आशीष कुलकर्णी के यहां गणेश दर्शन के लिए गए थे और उसी दौरान वहां डीप्टी सीएम फडणवीस पहुंचे. कई मेहमानों की उपस्थिति में हमारी सौहार्दपूर्ण मुलाकात हुई. चव्हाण ने कहा कि इस तरह समय से पहले निष्कर्ष निकालना गलत है.

अशोक चव्हाण का बीजेपी नेताओं के साथ अच्छे संबंध हैं. उन्होंने 9 अन्य कांग्रेस विधायकों के साथ विधानसभा में उद्धव के नेतृत्व वाली शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी सरकार के बहुमत परीक्षण से परहेज किया था. इसके अलावा, अशोक चव्हाण जांच के घेरे में हैं, क्योंकि पृथ्वीराज चव्हाण और चंद्रकांत हंडोरे जैसे कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के कुछ विधायकों ने एमएलसी चुनावों के दौरान कथित तौर पर क्रॉस वोटिंग की थी.

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: