अमेरिका के विशेष सैन्य बलों के साथ बकलोह, हिमाचल प्रदेश में संयुक्त अभ्यास शुरू

Font Size

नई दिल्ली ;  भारत-अमेरिका संयुक्त विशेष सैन्य बलों के 13वें संस्करण का अभ्यास “वज्र प्रहार, 2022” आज स्पेशल फोर्सेज ट्रेनिंग स्कूल (एसएफटीएस), बकलोह (हिमाचल प्रदेश) में शुरू हो गया। अमेरिकी दल का प्रतिनिधित्व यूएस स्पेशल फोर्सेज के फर्स्ट स्पेशल फोर्सेज ग्रुप (एसएफजी) और स्पेशल टैक्टिक्स स्क्वाड्रन (एसटीएस) के जवानों ने किया और भारतीय सैन्य दल का गठन एसएफटीएस की अगुआई में विशेष सैन्य बलों को निकालकर किया गया था।

वज्र प्रहार की श्रृंखला के संयुक्त अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों के विशेष बलों के बीच संयुक्त मिशन योजना और परिचालन रणनीतियों जैसे क्षेत्रों में सर्वश्रेष्ठ परिपाटियों और अनुभवों को साझा करने के साथ ही अंतर संचालन में सुधार करना है। इस वार्षिक अभ्यास की मेजबानी भारत और अमेरिका बारी बारी से करते रहे हैं। इसका 12वां संस्करण अक्टूबर, 2021 में ज्वाइंट बेस लेविस मैकॉर्ड, वाशिंगटन (यूएसए) हुआ था।

21 दिन तक चलने वाले इस अभ्यास में दोनों देशों की सेनाएं संयुक्त रूप से पहाड़ी इलाकों में पारम्परिक और गैर पारम्परिक परिदृश्यों में आतंकवाद रोधी अभियानों, वायु आधारित अभियानों की एक विशेष श्रृंखला में संयुक्त प्रशिक्षण, योजना और कार्यान्वयन किया जाएगा।

यह संयुक्त अभ्यास दोनों देशों के विशेष बलों के बीच पारम्परिक मैत्रीपूर्ण तालमेल को मजबूत बनाने के साथ ही भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग में सुधार की दिशा में एक उल्लेखनीय कदम है।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: