कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में भारत 5 देशों की सुरक्षा एजेंसियों ने किया मंथन

Font Size

आतंकवाद के मामलों की जांच से संबंधित कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव वर्चुअल कॉन्फ्रेंस

नई दिल्ली :  आतंकवाद के मामलों की जांच से संबंधित अनुभवों को साझा करने के बारे में कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव वर्चुअल कॉन्फ्रेंस का आयोजन 19 अप्रैल को भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा किया गया। इस वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में भारत, मालदीव, मॉरीशस, श्रीलंका और बांग्लादेश के पैनलिस्ट और प्रतिभागियों ने भाग लिया।

यह कॉन्फ्रेंस वर्ष 2022-23 के दौरान सहयोग एवं गतिविधियों से संबंधित कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव के रोडमैप में चिन्हित की गई सहभागिता संबंधी विभिन्न गतिविधियों में से एक था।  कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव के इस रोडमैप पर 9-10 मार्च 2022 को मालदीव में आयोजित एनएसए स्तर की पांचवीं बैठक में सदस्य देशों द्वारा सहमति व्यक्त की गई थी।

इस कॉन्फ्रेंस में शामिल प्रतिभागियों ने अपने-अपने देशों में आतंकवाद से संबंधित विभिन्न चुनौतियों पर चर्चा की और आतंकवाद के विभिन्न मामलों में मुकदमा चलाने, विदेशी लड़ाकों से निपटने की रणनीति और इंटरनेट एवं सोशल मीडिया के दुरुपयोग का मुकाबला करने के बारे में अपने अनुभव साझा किए। पैनलिस्टों ने आतंकवाद और कट्टरवाद से संबंधित मामलों की प्रभावी जांच और अभियोजन के लिए कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव के सदस्य एवं पर्यवेक्षक देशों के बीच घनिष्ठ सहयोग और समन्वय की जरूरत पर जोर दिया।

प्रतिभागियों ने कोलंबो सिक्योरिटी कॉन्क्लेव के तहत आतंकवाद और कट्टरपंथ का मुकाबला करने की दिशा में सहयोग को आगे बढ़ाने के लिए विशिष्ट क्षेत्रों की पहचान करने पर सहमति व्यक्त की।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: