केवल तीन साल बाद हिन्दुस्तान बनेगा हिन्दू राष्ट्र : शंकराचार्य सवामी निश्चलानंद सरस्वती

12 / 100
Font Size

-गोवर्धन पुरी के पीठाधीश्वर हैं जगद्गुरु शंकराचार्य सवामी निश्चलानंद सरस्वती 
-हिन्दुस्तान विकासशील से बढ़कर बनेगा विकसित

-सम्पूर्ण विश्व मे लहराऐगा अखण्ड भारत का परचम

गुरूग्राम : वर्तमान परिपेक्ष्य में जैसे  हिन्दुस्तान को हिन्दू राष्ट्र घोषित करने की मांग तेज हो रही है। हिन्दू राष्ट्र की घोषणा को लेकर संत समाज आक्रोशित दिखाई दे रहा हैं। आज गोवर्धन पूरी के पीठाधीश्वर स्वामी निश्चलानंद ने अपने सम्बोधन मे घोषणा कर दी है कि हिन्दुस्थान 3 सालों में हिन्दू राष्ट्र घोषित हो जाएगा।

गुरूग्राम मे अपने दो दिन के प्रवास पर गोवर्धन पुरी पीठाधीश्वर जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती महाराज ने कहा कि आगामी साढ़े तीन साल में भारत हिन्दू राष्ट्र बन जाएगा। उन्होंने कहा कि हिंदू समाज को एकजुट होकर सनातन परंपरा के प्रचार-प्रसार के लिए काम करना चाहिए। धर्म सभा का आयोजन सनसिटी स्कूल ग्रीनवुङ सिटी मे हुआ जिज्ञासा और समाधान तथा प्रश्नोत्तरी के आयोजन मेफिल्ङ गार्डन स्थित इप्सा स्कूल के सभागार मे आयोजित किए गएजगतगुरू शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती महाराज ने धर्म, राजनीति, आध्यात्म और गृहस्थ जीवन के साथ ही संन्यास पर लोगों के प्रश्नों के उत्तर दिए।


महानगर के विभिन्न क्षेञो से जुङे अनेकों प्रबुद्ध लोगों ने भी जगद्गुरु के दर्शन कर आशीर्वाद लिया मेफिल्ङ गार्डन मे इप्सा ङे केयर मे पञकारो को सम्बोधित करते हुए जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानन्द जी सरस्वती महाराज ने कहा कि आज विज्ञान का युग है। विज्ञान सनातन धर्म की देन है। विज्ञान भी वेद-पुराण की महत्ता को नकार नहीं सकता।भारत के साढ़े तीन साल में हिंदू राष्ट्र घोषित होने पर उन्होंने कहा कि हमें सनातनी परंपरा का पालन कर लोगों के बीच इसका प्रचार प्रसार करना होगा।

जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानन्द जी सरस्वती महाराज ने कहा कि जनसंख्या घनत्व गणना के लिए हमे बिरादरी चाहे वो सिख हो , जैन हो दलित हो ,उससे बाहर निकलकर केवल हिन्दू बनना होगा।

इस्लामी, मुस्लिम आक्रमण हो या धर्मांतरण, सोच संस्कार और परवरिश से हम वर्तमान जी रहे है जबकि सत्य सनातन ही सर्वोपरि है। आने वाली 2025 मे हिन्दूस्तान बनेगा ” हिन्दू राष्ट्र।

आयोजन के सफल आयोजन मे समिति से जुङे रजत मिश्रा , शिव मित्तल, विजय गुप्ता, सुभाष गुप्ता, रमन मंगला,अनिल अग्रवाल, अजय सिंघल, राजीव मित्तल, सुनील गुप्ता, सुधीर मलिक , सन्दीप गर्ग,विजय गुप्ता, नरेश गुप्ता, पवन मित्तल, सुनील अग्रवाल, अनिल अग्रवाल , क्षितिज, पुनीत बंसल , आशीष हितेमपुरिया, ङी पी गोयल, जगबीर सिंह रांगी, विशाल शर्मा,पर्व शर्मा, अमित गुप्ता, ङा के के कौशल इत्यादि का योगदान सराहनीय रहा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page