मुख्यमंत्री ने कहा : हरियाणा को फार्मा एवं ड्रग उद्योग का हब बनाने पर काम शुरू

Font Size
  • चण्डीगढ़, 25 जून – हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार लघु, सुक्ष्म एवं मध्यम दर्जे के उद्योगों को विकसित करके प्रदेश को फार्मा एवं ड्रग उद्योग का हब बनाने की दिशा में कार्य कर रही है। इसके लिए हरियाणा में उद्योग स्थापित करने वालों को विशेष प्रोत्साहन दिया जाएगा। मुख्यमंत्री आज यहां कान्फेडरेशन ऑफ इंडियन इण्डस्ट्री (सीआईआई) के साथ वीसी के माध्यम से आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा का अधिकांश क्षेत्र एनसीआर में आता है तथा पैरामीटर के हिसाब से भी हरियाणा बेहतर स्थान है और अन्य राज्यों से प्रतिस्पर्धा करने के लिए तत्पर है। उन्होंने कहा कि इज आफ डुइंग बिजनेस में हरियाणा  तीसरे स्थान पर रहा है। इसके अलावा उद्यमियों के लिए एक ही छत के नीचे 18 विभागों की सेवाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं जिनमें 45 दिन में क्लीयरेंस देना अनिवार्य किया गया है। इस प्रकार सरकार ने हरियाणा इंटरप्रेन्योर एण्ड इम्पलाईमेंट उद्यम नीति बनाई है जिसके अनुसार इंडस्ट्री को अनेक सुविधाएं दी जा रही हैं।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि लघु, सुक्ष्म एवं मध्यम दर्जे के उद्योगों में स्थानीय इन्वेस्टर भी आ सकते हैं। उन्होंने आह्वान किया कि उद्यमी राष्ट्रहित को सर्वोपरि मानते हुए कार्य करें और हरियाणा में उद्यम स्थापित करने के लिए आगे आएं। एमएसएमई नीति में उद्यमियों की अच्छी परफॉर्मेंस होगी और वे नेशनल इन्वेस्टर के रूप में भी प्रमोट होंगे।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचकूला के बरवाला में डीटीपी की ओर से ई-मार्क करके फार्मा कलस्टर के लिए जमीन रिजर्व रखी गई है। इसके अलावा यह भूमि हिमाचल प्रदेश के नाहन के साथ लगती है। इस भूमि की चण्डीगढ एयरपोर्ट से भी कनेक्टिविटी है। इसके अलावा सरकार हिसार में बल्क ड्रग फार्मा तथा पानीपत में मेडिकल डिवाईस पार्क बनाने के लिए कार्य किया जा रहा है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि एमएसएमई के तहत  जिला स्तर पर अधिक से अधिक क्लस्टर स्थापित हों और प्रदेश के युवाओं के लिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार के अवसर सुलभ हों। इस योजना से कम लागत पर अधिक मार्केटिंग की जा सकती है।
  • इस मौके पर प्रधान सचिव एवं एचएसआईडीसी के एमडी श्री अनुराग अग्रवाल ने प्रजेंटेशन के माध्यम से एमएसएमई पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि सरकार फार्मा इण्डस्ट्री के विकास को कृतसकंल्प है। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से हिसार में इंटीग्रेटिड एविएशन हब भी बनाया जा रहा है। उन्होंने उद्योगपतियों को निवेश के लिए आमंत्रित करते हुए कहा कि यह कांफ्रेस निवेश बढाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकती है ।
  • इस मौके पर मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी एस ढेसी, उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रधान सचिव विजेन्द्र कुमार भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: