भारत में अब तक कोविड 19 के डेल्टा प्लस वेरिएंट के 22 मामले सामने आये

51 / 100
Font Size

नई दिल्ली : कोविड-19 टीके की व्यापक उपलब्धता से जुड़ा नया चरण कल से शुरू हुआ। जांच, बीमारी का पता लगाने, उपचार और कोविड उपयुक्त व्यवहार के साथ-साथ महामारी की रोकथाम और प्रबंधन के लिए टीकाकरण भारत सरकार की व्यापक रणनीति का एक अभिन्न स्तंभ है। केंद्र सरकार पूरे देश में कोविड-19 टीकाकरण की प्रक्रिया को तेज करने और उसकी गुंजाइश बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। नीति आयोग का कहना है कि भारत में अब तक #Covid19 के #Deltaplus वेरिएंट के 22 मामले सामने आ चुके हैं . 

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने 16 जनवरी, 2021 को राष्ट्रव्यापी कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत की थी। टीकाकरण अभियान और टीकों की उपलब्धता के साथ, राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को टीकाकरण उपलब्धता की अग्रिम जानकारी देकर तेज किया गया ताकि टीकों को लेकर राज्य और केंद्रशासित प्रदेश बेहतर योजना बना सकें और टीकों की आपूर्ति श्रृंखला सुव्यवस्थित की जा सकें। 21 जून को भारत ने एक ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की, रिकॉर्ड 88.09 लाख वैक्सीन डोज़ दी गई.

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत भारत सरकार राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को निशुल्क कोविड टीके उपलब्ध कराकर उनकी मदद कर रही है। सबको टीका उपलब्ध कराने से जुड़े कोविड-19 टीकाकरण अभियान के नये चरण के तहत केंद्र सरकार देश में टीका विनिर्माताओं द्वारा उत्पादित 75 प्रतिशत टीके खरीदेगी और उनकी राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को (निशुल्क) आपूर्ति करेगी।

भारत सरकार ने अब तक राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को कोविड टीके की 29.35 करोड़ से अधिक खुराक (29,35,04,820) मुफ्त श्रेणी और राज्यों द्वारा सीधी खरीद की श्रेणी के माध्यम से प्रदान की है। इसमें से कुल खपत (अपव्यय सहित) 27,20,14,523 खुराक (आज सुबह आठ बजे उपलब्ध आंकड़े के अनुसार) है।

राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के पास अब भी टीके की 2.14 करोड़ से ज्यादा (2,14,90,297) खुराक उपलब्ध हैं जिन्हें दिया जाना बाकी है।

इसके अलावा टीके की 33,80,590 से ज्यादा खुराक प्रक्रियारत हैं और अगले तीन दिनों में राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को प्रदान कर दी जाएंगी।

देश में 29.16 करोड़ डोज़ दी जा चुकी हैं, आज इस समय तक देश में 38 लाख डोज़ दी गई हैं.

7 मई को देश में दैनिक मामलो की पीक देखी गई थी, उसके बाद से लगातार गिरावट देखी जा रही है.

18 से 24 मई के सप्ताह में औसत 21 लाख परीक्षण किए गए थे, 15 से 21 जून के सप्ताह में भी औसत 18 लाख परीक्षण किए गए हैं.

कल लगाए गए टीकों में से 63.7% ग्रामीण क्षेत्रों में थे, 71% टीकाकरण केंद्र ग्रामीण क्षेत्रों में हैं, पिछले कुछ हफ्तों में किए गए कुल टीकाकरणों में से आधे से अधिक ग्रामीण क्षेत्रों में थे.

बुजुर्ग लोग जिन्हें कोई बीमारी नहीं है, वे टीकाकरण के बाद बाहर जा सकते हैं और उन्हें #COVID19 उपयुक्त व्यवहार का पालन करना जारी रखना चाहिए. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page