गुरुग्राम से जयपुर, अलवर व कटरा रूट की बस सेवाएं शुरू

2 / 100
Font Size

-चंडीगढ़ के लिए नियमित रूप से जारी है बस सेवा
-एक बस में केवल 30 यात्रियों को बैठने की अनुमति

गुरुग्राम। कोरोना संक्रमण का प्रसार कम होते ही रोडवेज विभाग ने चरणबद्ध तरीके से लंबी दूरी के कुछ चुनींदा रूटों पर बस सेवा फिर से बहाल कर दी है। लंबी दूरी की ये बस सेवाएं कोरोना महामारी की दूसरी लहर के समय लगे लॉकडाउन के चलते करीब डेढ़ महीने से बंद थी।

हरियाणा राज्य परिवहन डिपो गुरूग्राम के महाप्रबंधक कुलबीर सिंह ढाका ने इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान परिवहन विभाग ने लॉकडाउन की गाइडलाइन्स के चलते लंबी दूरी के रूटों की बस सेवाएं बंद कर दी थी, लेकिन इस दौरान लोकल रूटों पर बस सेवा निरंतर जारी थी। हालांकि यात्रियों की संख्या के मद्देनजर बसों के फेरो में कमी की गई थी।

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा जारी नई गाइडलाइंस के अनुसार विभाग ने कुछ चुनिंदा रूटों पर बस सेवा फिर से बहाल कर दी है। विभाग द्वारा अभी राजस्थान प्रदेश में जाने वाली बसों के जयपुर व अलवर रूट को फिर से शुरू किया गया है। अभी गुरुग्राम से जयपुर रूट पर तीन व गुरुग्राम से अलवर रूट पर एक बस शुरू की गई है। ये सभी बसें गुरुग्राम बस अड्डे से सुबह प्रस्थान करती है। गुरुग्राम से कटरा के रूट पर अभी रोजाना दोपहर 12 बजे एक बस का ही संचालन किया जा रहा। जम्मू-कश्मीर में बसों के प्रवेश की अनुमति ना मिलने का कारण अभी यह सेवा गुरुग्राम से लखनपुर बॉर्डर तक ही चलाई जा रही है। कटरा जाने वाले यात्री लखनपुर बॉर्डर से दूसरी बस सेवा लेकर अपनी यात्रा पूरी कर सकते है।

महाप्रबंधक ने बताया कि गुरूग्राम से चंडीगढ़ के रूट पर अभी रोजाना 10 साधारण बसों का संचालन किया जा रहा है। इस रूट पर चलने वाली ए.सी बसों को हरियाणा राज्य परिवहन डिपो के अगले आदेशों तक बन्द रखा गया है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा अभी पंजाब, हिमाचल व उत्तर प्रदेश के रूटों के लिए बसों के संचालन की अनुमति नही दी गई है। सरकार से अनुमति मिलते ही इन प्रदेशों में जल्द सभी रूटों की बस सेवाएं बहाल कर दी जाएगी।

हरियाणा राज्य परिवहन डिपो गुरूग्राम में बसों के संचालन का कार्य देख रहे इंस्पेक्टर राजबीर सिंह ने बताया गुरुग्राम बस अड्डे से चलने वाली बसें अपने निर्धारित गंतव्य स्थान पर ही जाकर रुकेंगी। इस दौरान रास्ते मे पड़ने वाले किसी भी बस अड्डे पर नए यात्रियों को चढ़ने को अनुमति नही होगी।

उन्होंने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग व कोविड अनुकूल व्यवहार की पालना के साथ ये बस सेवाएं शुरू की गई है। बसों के अंदर व बस अड्डे पर सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। एक बस में केवल 30 यात्रियों को ही बैठने की अनुमति होगी। प्रवेश से पहले सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी। हर यात्री के लिए मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा। बिना मास्क पहने यात्री को बस में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page