सिरसा शहर के आधा हिस्से का अमृत योजना व शेष शहर का स्टेट फंडिड प्रोग्राम से होगा विकास : दुष्यंत चौटाला

Font Size

उप मुख्यमंत्री ने चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय,सिरसा में पूर्व उपप्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण किया 

चंडीगढ़ :  हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य सरकार शहरों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र का समान रूप से विकास करने पर जोर दे रही है । सिरसा शहर के आधा हिस्सा को अमरूत योजना व शेष शहर का इंडिपेंडेंटली स्टेट फंडिड प्रोग्राम से विकास करवाया जाएगा।

डिप्टी सीएम आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय,सिरसा में पूर्व उपप्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण करने के बाद पत्रकारों से बात रहे थे। इस प्रतिमा में 300 टन मैटल का प्रयोग हुआ है तथा प्रतिमा को दो कारीगरों ने डेढ़ माह में तैयार कर अपनी कला को दर्शाया है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर नमन किया। इस दौरान उनके साथ पुरातत्व विभाग के राज्य मंत्री अनूप धानक भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर अपने संबोधन में दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पूर्व उपप्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी देवीलाल अपने आप में एक संस्थान थे, जिनका पूरा राजनीतिक जीवन लोगों की भलाई के लिए समर्पित रहा। चौधरी देवीलाल की यह प्रतिमा आने वाली पीढिय़ों के लिए प्रेरणा स्त्रोत का काम करेगी। उपमुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को सातवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज योग को पूरे विश्व में त्यौहार के रूप में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योग भारत की प्राचीन पद्धति है और योग को पूरे विश्व ने अपनाया है और इसका महत्व भी समझा है। उन्होंने कहा कि अगले एक वर्ष में जलभराव की समस्या से सिरसा शहर को निजात मिलगी। उन्होंने कहा कि इन कार्यों के लिए 28 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जाएगी।

उपमुख्यमंत्री ने प्रतिमा के अनावरण उपरांत लोक निर्माण विभाग संबंधी सडक़ सुदृढ कार्य की 4867.36 लाख रुपये राशि की विकास परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी। इन सडक़ों के सुदृढीकरण कार्य प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना से किए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि सिरसा शहर के तीन स्कूल व एक थाना के भवन को रिमॉडल करके पीपीपी मॉडल के रूप में तैयार करने के लिए प्लान बनाया गया है। इससे पार्किंग-कम-कमर्शियल स्पेस तैयार होगा। इसी प्रकार शहर के छोटे बड़े 52 पार्कों का गुरूग्राम की तर्ज पर व्यवस्था सुधार के साथ-साथ सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इसी प्रकार आने वाले दिनों में शहर में स्ट्रीट लाइट के लिए स्काडा बेस्ड कप्यूटराइज लाइटिंग सिस्टम स्थापित किया जाएगा जिससे लाइट की वेस्टेज नहीं होगी और रखरखाव भी बेहतर ढंग से किया जा सकेगा और इस व्यवस्था में बिजली संबंधी समस्या की 24 घंटे में रिपोर्टिंग का भी प्रावधान है।

उपमुख्यमंत्री ने जिन सडक़ों के सुदृढ कार्यों का शिलान्यास किया, उनमें 1275.02 लाख रुपये की लागत से चत्तरगढ पट्टी से नेजाडेला सडक़ व सुबाखेड़ा से कमाल-भादरा-कुरंगावाली सडक़, 1330.36 लाख रुपये की लागत से गांव बिज्जुवाली से अबूबशहर वाया मुन्ना वाली, गंगा रोड़, 1427.86 लाख रुपये की लागत से सांवत खेड़ा से दिवानखेड़ा, खुईयां मलकाना, मलिकपुरा, रामपुरा बिश्नोईयां, झूठीखेड़ा, 834.12 लाख रुपये की लागत से केवल से पक्कां, कमाल, कालांवाली से दादू सडक़ सुदृढीकरण के कार्य शामिल हैं।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: