दक्षिण कोरिया भारत के पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम में कई क्षेत्रों में करेगा भारी निवेश

10 / 100
Font Size

कोरिया सरकार की अगुआई में यह पहला कोरियाई व्यापार प्रतिनिधिमंडल है जिसने सिक्किम या भारत के पूर्वोत्तर राज्य में इतने बड़े स्तर पर निवेश करने की इच्छा व्यक्त की है

नई दिल्ली: दक्षिण कोरिया भारत के पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम में नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं, बिजली उत्पादन, फार्मास्यूटिकल्स, खाद्य प्रसंस्करण और पर्यटन के क्षेत्र में निवेश करेगा

इस सम्बन्ध में एक कोरियाई मिशन जिसमें कोरिया गणराज्य के दूतावास और कोरियाई व्यापार निवेश संवर्धन एजेंसी (कोटरा) के वरिष्ठ अधिकारियों शामिल थे ने सिक्किम राज्य मुख्य मंत्री प्रेम सिंह तमांग व वाणिज्य और उद्योग मंत्री बेदु सिंह पंथ से सिक्किम राज्य में कई क्षेत्रों में निवेश की व्यवहार्यता के लिए आज शुक्रवार को मुलाकात की।

इस आशय की जानकारी देते हुए क्वांग सेओक यांग, वाणिज्यिक अटैची, कोरिया गणराज्य के दिल्ली स्थित दूतावास ने बताया, “कोरिया 1990 से मुख्य रूप से मोटर वाहन, इलेक्ट्रॉनिक्स और रासायनिक क्षेत्रों में निवेश कर रहा है और अब यह दवा, ऊर्जा, जैविक खेती, खाद्य प्रसंस्करण और पर्यटन जैसे विभिन्न उद्योगों में अपनी रुचि का विस्तार करने की दिलचस्पी रखता है। मुझे उम्मीद है, इस यात्रा से सिक्किम में नए अवसर खुलेंगे।”

ज्ञात रहे, कोरिया सरकार की अगुआई में यह पहला कोरियाई व्यापार प्रतिनिधिमंडल है जिसने सिक्किम या भारत के पूर्वोत्तर राज्य में इतने बड़े स्तर पर निवेश करने की इच्छा व्यक्त की है।

आर्थिक और द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा की

प्रतिनिधिमंडल ने कोरिया और सिक्किम सरकार के बीच आर्थिक और द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा की, इसके साथ ही कोरियाई अधिकारियों द्वारा राज्य में नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं में निवेश के लिए उत्सुकता व्यक्त की गई क्योंकि राज्य में बिजली उत्पादन की बहुत बड़ी संभावना है, जो काफी हद तक अप्रयुक्त है। दोनों पक्षों ने कोरियाई कंपनियों और राज्य के बीच कई अन्य क्षेत्रों जैसे की फार्मास्यूटिकल्स, खाद्य प्रसंस्करण और पर्यटन में सहयोग की संभावना पर भी बातचीत की। कोटरा (कोरिया गणराज्य के दूतावास का व्यापार कार्यालय) ने सिक्किम में निवेश के अवसर को भारत और कोरिया में कोरियाई कंपनियों के साथ साझा करने का वादा किया।

नए अवसरों की खोज करेंगे : मून यंग किम

कोटरा एशिया रीजन के मैनेजिंग डायरेक्टर मून यंग किम ने कहा, ”कोरियाई कंपनियां बोल्ड होती हैं और नए अवसरों के लिए हमेशा तत्पर होती हैं। इसलिए सिक्किम विभिन्न संभावनाओं को देखते हुए अनुकूल स्थलों में से एक हो सकता है। हम नवीकरणीय ऊर्जा, फार्मास्यूटिकल्स, खाद्य प्रसंस्करण और अन्य क्षेत्रों में काम करने वाली कोरियाई कंपनियों के साथ राज्य में नए अवसरों की खोज करेंगे और आपसी लाभ के लिए एक दूसरे के साथ मिलकर काम करेंगे।”

3D प्रिंटिंग मास्क डोनेट किया

इस अवसर पर कोरियाई मिशन ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग को कोरियाई निर्मित मास्क भी दान किए। इसमें 3 डी प्रिंटिंग मास्क, जिसे आईसीटी डिवाइस पंग्यो एफएबी / सोंगडो एलएबी ने प्रदान किया है। इन मास्क की खासियत यह है कि इस मास्क के फिल्टर को बदलकर पुनः इस्तेमाल किया जा सकता है। इस मास्क को लंबे समय तक उपयोग किए जाने के लिए डिज़ाइन किया गया है जिससे व्यक्ति को मास्क लगाने से थकावट या साँस लेने में तकलीफ न हो।

कोटरा एक राज्य-वित्त पोषित संगठन है जो कोरिया गणराज्य और भारत के बीच व्यापार संबंधों को सुविधाजनक बनाता है। यह विदेशों में विस्तार करने वाली कोरियाई कंपनियों का समर्थन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। भारत में, कोटरा के नई दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता अहमदाबाद और बेंगलुरु में कार्यालय हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page